छत्तीसगढ़ जिला पुलिस के 'पुना नर्कोम अभियान' को मिल रही सफलता, सुकमा में आज 8 लाख के इनामी नक्सली ने पुलिस के सामने किया आत्मसमर्पण, तालमेटला में 76 जवानों को शहीद करने में था शामिल

Samachar Jagat | Thursday, 09 Sep 2021 11:00:15 PM
Chhattisgarh District Police's 'Puna Narkom Abhiyan' is getting success, today in Sukma 8 lakh rewarded Naxalite surrendered before the police, was involved in killing 76 jawans in Talmetla

इंटरनेट डेस्क। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के आत्मसमर्पण का मामला सामने आया है। छत्तीसगढ़ में आज गुरुवार को 8 लाख रुपये के इनामी नक्सली ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस को मिली इस कामयाबी पर सुकमा के एसपी सुनील शर्मा ने बताया कि सोढ़ी मुया नक्सलियों का नेतृत्व करता था। इसके आने से हमें उनके काम करने का तरीका, पैसों के लेन-देन और उनके शहरी संपर्कों के बारे में जानकारी मिलेगी।

 

छत्तीसगढ़: सुकमा में 8 लाख के इनामी नक्सली ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया।

सुकमा के एसपी सुनील शर्मा ने बताया, “सोढ़ी मुया नक्सलियों का नेतृत्व करता था। इसके आने से हमें उनके काम करने का तरीका, पैसों के लेन-देन और उनके शहरी संपर्कों के बारे में जानकारी मिलेगी।” pic.twitter.com/LxvpbWhgxK — ANI_HindiNews (@AHindinews) September 9, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, केरलापाल एरिया कमेटी का कमांडर सरेंडर करने के लिए वह सुकमा के एसपी सुनील शर्मा के पास पहुंचा था।सोढ़ी मुया ने कई बड़े नक्सली हमलों को अंजाम तक पहुंचाया है। उनका सबसे बड़ा नक्सली हमला तालमेटला में किया था जिसमें 76 जवान शहीद हुए थे। इन बड़े हमलों में सोढ़ी मूया शामिल था। 

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए सरकार और पुलिस दोनों ही अपने-अपने स्तर पर कार्य कर रही हैं। राज्य सरकार द्वारा जहां नक्सलियों के लिए “पुनर्वास नीति” बनाई गई है उनके लिए घर बनाए गए हैं। वहीं जिला पुलिस द्वारा 'पुना नर्कोम अभियान' चलाया जा रहा है जिससे प्रभावित होकर नक्सली लगातार पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर रहे हैं।  

 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.