पूर्वी लद्दाख में चीन की वायु सेना अभी भी , चीन ने काफी हद तक इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट किया लेकिन हम पर इसका कोई असर नहीं होगा : विवेक राम चौधरी

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Oct 2021 01:29:08 PM
China's Air Force still in Eastern Ladakh, China has done infrastructure development to a large extent but it will not affect us: Vivek Ram Chaudhary

इंटरनेट डेस्क। भारतीय वायु सेना के नए सेनाध्यक्ष विवेक राम चौधरी ने आज मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि कोविड की दूसरी लहर में हमारे ट्रांसपोर्ट फ्लीट ने मेडिकल सप्लाई और ऑक्सीजन को 18 देशों से लाने और ले जाने का काम किया। इसमें हमारी वायु सेना ने क़रीब 1100 घंटों की उड़ान भरी और भारत में ही 2600 घंटों की उड़ान भरी। 

 

पूर्वी लद्दाख में चीन की वायु सेना अभी भी है। चीन ने काफी हद तक इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बढ़ाया है, इंफ्रास्ट्रक्चर की वजह से हो सकता है कि वह अपनी सेना को जल्दी तैनात कर दें लेकिन हम पर इसका कोई असर नहीं होगा: वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी pic.twitter.com/AnZWM80OGr — ANI_HindiNews (@AHindinews) October 5, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, वायु सेनाध्यक्ष वी.आर चौधरी ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में चीन की वायु सेना अभी भी है। चीन ने काफी हद तक इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बढ़ाया है, इंफ्रास्ट्रक्चर की वजह से हो सकता है कि वह अपनी सेना को जल्दी तैनात कर दें लेकिन हम पर इसका कोई असर नहीं होगा।

उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इससे इनकार नहीं किया जा सकता कि मिग-21 की बड़ी संख्या में दुर्घटनाएं हुई हैं। आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि पहले के मुकाबले इन दुर्घटनाओं की संख्या में कमी आई है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हर विमान उड़ान भरने से पहले एक सख्त जांच से गुजरता है। 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.