कॉलेजियम ने न्यायमूर्ति धूलिया, न्यायमूर्ति परदीवाला को उच्चतम न्यायालय भेजने की सिफारिश की

Samachar Jagat | Friday, 06 May 2022 03:20:43 PM
Collegium recommends sending Justice Dhulia, Justice Pardiwala to Supreme Court

नयी दिल्ली। मुख्य न्यायाधीश एनवी रमण की अध्यक्षता वाले उच्चतम न्यायालय के कॉलेजियम ने गुवाहाटी उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश सुधांशु धूलिया और गुजरात उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जमशेद बी परदीवाला को पदोन्नत कर शीर्ष अदालत भेजने की सिफारिश की है। शुक्रवार को जारी एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई है। 


केंद्र अगर इन सिफारिशों को मंजूरी देता है तो शीर्ष अदालत में न्यायाधीशों की संख्या बढ़कर 34 हो जाएगी और न्यायमूर्ति परदीवाला दो साल से अधिक समय के लिए मुख्य न्यायाधीश भी बन सकते हैं। कॉलेजियम का प्रस्ताव शीर्ष अदालत की वेबसाइट पर साझा किया गया है। इसके मुताबिक, ''उच्चतम न्यायालय के कॉलेजियम ने उच्च न्यायालयों के इन मुख्य न्यायाधीश/न्यायाधीश को शीर्ष अदालत के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत करने की सिफारिश की है, जिनमें गुवाहाटी उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश सुधांशु धूलिया और गुजरात उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जमशेद बी परदीवाला शामिल हैं।’’


उच्चतम न्यायालय के कॉलेजियम में मुख्य न्यायाधीश एनवी रमण के अलावा न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर, न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव शामिल हैं। न्यायमूर्ति धूलिया उत्तराखंड उच्च न्यायालय के दूसरे न्यायाधीश होंगे, जिन्हें पदोन्नत करके शीर्ष अदालत भेजा जाएगा, जबकि न्यायमूर्ति परदीवाला पारसी समुदाय से सर्वोच्च न्यायालय तक पहुंचने वाले चौथे न्यायाधीश होंगे।


दस अगस्त 1960 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के सुदूर गांव मदनपुर में जन्मे न्यायमूर्ति धूलिया ने 1986 में इलाहाबाद उच्च न्यायालय से, जबकि 12 अगस्त 1965 को मुंबई में जन्मे न्यायमूर्ति परदीवाला ने 1990 में गुजरात उच्च न्यायालय से वकालत शुरू की थी। 



 
loading...

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.