कांग्रेस ने फिर की राफेल की कीमत सार्वजनिक करने की मांग

Samachar Jagat | Wednesday, 29 Jul 2020 01:20:01 PM
Congress again demanded that the price of Rafale be made public

नयी दिल्ली। फ्रांस से पांच राफेल विमानों की पहली खेप देश में पहुंचने के बीच कांग्रेस ने एक बार फिर इसकी कीमत को सार्वजनिक करने की मांग की है।
कांग्रेस महासचिव एवं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिह ने बुधवार को ट््वीट कर कहा, एक राफèेल की कèीमत कांग्रेस सरकार ने 746 करोड़ रुपये तय की थी लेकिन ''चौकीदार’’ महोदय कई बार संसद में और संसद के बाहर भी मांग करने के बावजूद आज तक एक राफèेल कितने में .खरीदा है, बताने से बच रहे हैं। क्यों? क्योंकि चौकीदार जी की चोरी उजागर हो जायेगी!! ''चौकीदार’’ जी अब तो उसकी कèीमत बता दें।
वर्ष 2०19 के आम चुनाव में राफेल की कीमत का मुद्दा कांग्रेस ने जोरशोर से उठाया था। यहां तक कि यह मामला उच्चतम न्यायालय में भी पहुंचा था।
कांग्रेस सांसद ने कहा, आ.खरि राफèेल फाइटर प्लेन आ गया। 126 राफèेल .खरीदने के लिए कांग्रेस के नेतृत्व में संप्रग ने 2०12 में फैसला लिया था और 18 राफèेल को छोड़कर बाकी भारत सरकार की हिदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड में निर्माण का प्रावधान था। यह भारत के आत्मनिर्भर होने का प्रमाण था। एक राफèेल की कèीमत 746 करोड़ तय की गई थी।
श्री सिह ने आगे लिखा, मोदी सरकार आने के बाद फè्रांस के साथ मोदी जी ने बिना रक्षा व वित्त मंत्रालय व कैबिनेट कमेटी की मंज़ूरी के नया समझौता कर लिया और हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड का हकè मार कर निजी कम्पनी को देने का समझौता कर लिया। राष्ट्रीय सुरक्षा की अनदेखी कर 126 राफèेल .खरीदने के बजाय केवल 36 .खरीदने का निर्णय ले लिया। 




 
loading...
loading...

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.