Agricultural laws के खिलाफ भाकपा सांसद ने उच्चतम न्यायालय का रुख किया

Samachar Jagat | Monday, 12 Oct 2020 08:30:03 PM
CPI MP moves Supreme Court against agricultural laws

नयी दिल्ली। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के सांसद विनय विश्वम ने हाल में लागू कृषि संबंधी तीन कानूनों की संवैधानिक वैधानिकता को चुनौती देते हुए सोमवार को उच्चतम न्यायालय में रिट याचिका दायर की। विश्वम ने कानूनों को 'असंवैधानिक’ करार देकर इनको निरस्त करने का आग्रह करते हुए अपनी याचिका में आरोप लगाया कि ये कानून भारत की संवैधानिक व्यवस्था के संघीय ढांचे का उल्लंघन करते हैं।

वामपंथी नेता ने एक बयान में कहा कि इन विधेयकों को राज्यसभा में चर्चा के बिना ध्वनिमत पारित कर दिया गया जो संविधान के अनुच्छेद 1०० और 1०7 का उल्लंघन है। उन्होंने यह दावा भी किया कि ये कानून संविधान के 14,19 और 21 अनुच्छेद का उल्लंघन करते हैं।

गौरतलब है कि संसद के पिछले मानूसन सत्र में दोनों सदनों ने किसान उपज व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन एवं सुविधा) विधेयक)2०2०, किसान (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) मूल्य आश्वासन अनुबंध एवं कृषि सेवाएं विधेयक 2०2० और 3) वस्तु (संशोधन) विधेयक 2०2० को मंजूरी दी थी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविद ने कुछ दिनों पहले इन विधेयकों को अपनी संस्तुति प्रदान की जिसके बाद ये कानून बन गए।(एजेंसी) 



 
loading...


Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.