Delhi : 1991 में राजीव गांधी की हत्या के बाद अमेठी से चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे कैप्टन सतीश शर्मा !, पिता के सबसे करीब दोस्त के जाने से भावुक हुए राहुल गांधी, अर्थी को दिया कंधा

Samachar Jagat | Friday, 19 Feb 2021 12:56:18 PM
Delhi: Captain Satish Sharma, who won the Lok Sabha elections from Amethi after the assassination of Rajiv Gandhi in 1991!

इंटरनेट डेस्क। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी के लिए आज का दिन शोक में डूब गया। आज राहुल गांधी अपने पिता स्व. राजीव गांधी के सबसे खास दोस्त रहे कैप्टन सतीश शर्मा के अंतिम संस्कार में शामिल हुए। इस मौके पर अंतिम यात्रा में राहुल गांधी ने कैप्टन की अर्थी को कंधा भी दिया। इस दौरान वे भावुक नजर आये।

 

Delhi: Congress leader Rahul Gandhi gives shoulder to the mortal remains of party leader Captain Satish Sharma who passed away on February 17 pic.twitter.com/BhM4zMjGAz — ANI (@ANI) February 19, 2021

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नंगे पैर अपने पिता के दोस्त की अंतिम यात्रा में पहुंचे। कांग्रेस नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री कैप्टन सतीश शर्मा का बुधवार को गोवा में निधन हो गया था। वह 73 वर्ष के थे। कैंसर से पीड़ित शर्मा पिछले कुछ समय से बीमार थे।

गौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के निकट सहयोगी रहे शर्मा का जन्म आंध्र प्रदेश के सिकंदराबाद में 11 अक्टूबर, 1947 को हुआ। शर्मा बाद में एक पेशेवर पायलट बने। रायबरेली और अमेठी निर्वाचन क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व कर चुके शर्मा तीन बार लोकसभा सदस्य चुने गए थे। वह तीन बार राज्यसभा सदस्य भी बने और उन्होंने मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया।

1991 में राजीव गांधी की हत्या के बाद अमेठी संसदीय क्षेत्र में उन्हें अमेठी से चुनाव में उतारा गया, तो रिकार्ड मतों से उन्होंने जीत दर्ज की। पीवी नरसिम्हा राव की सरकार के दौरान 1993 में कैप्टन शर्मा केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री बने।



 
loading...




Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.