बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व दशहरा आज

Samachar Jagat | Sunday, 25 Oct 2020 10:41:36 AM
Dussehra today, the festival of the victory of good over evil

द्वितीय आश्विन शुक्ल नवमींयुक्त दशमी पर आज असत्य पर सत्य की जीत का पर्व दशहरा मनाया जाएगा। कोरोना के चलते इस बार कॉलोनियों के साथ घर—घर छोटे—छोटे रावण दहन होंगे।  आदर्श नगर दशहरा मैदान, न्यू गेट रामलीला मैदान, प्रतापनगर सहित कहीं भीे दशहरा मेले का आयोजन नहीं होगा। ऐसे में इस बार घर—घर रावण दहन कर परंपरा निभाई जाएगी। वहीं अष्टमीयुक्त नवमीं पर शनिवार को महानवमी मनाई गई।

घर—घर कन्याओं और बटुको का पूजन कर भोजन कराया गया। कुछ लोगों ने महानवमी का व्रत उपवास किया। ज्योतिषियों ने बताया कि रविवार को सुबह 7.42 बजे तक नवमी रहेगी, उसके बाद दशमी शुरू हो जाएगी, जो 26 अक्टूबर को सुबह 9.01 बजे तक रहेगी। अपराह्न व्यापिनी दशमी पर प्रदोष काल में दशहरा पर्व मनाया जाता है, उसी दिन शाम को रावण दहन होता है।

रविवार को पूरे दिन रवियोग रहेगा, जो खरीददारी के लिए विशेष फलदायक होगा। इस दिन ज्वेलरी, वाहन, भूमि आदि खरीदना शुभ रहेगा। ज्योतिषाचार्य पं. दामोदर प्रसाद शर्मा ने बताया कि दशहरा पर रावण दहन प्रदोष काल में होता है। ऐसे में शाम 5 बजकर 46 मिनट से रात 10 बजकर 35 मिनट तक रहेगा।

धनिष्ठा नक्षत्र भी दिनभर रहेगा। यह तडक़े 4.38 बजे से अगले दिन सोमवार को तडक़े 4.23 बजे तक रहेगा। इस बार बाजार में छोटे—छोटे रावण के पुतले बिक रहे है। रावण बनाने वालों ने कुछ रावण के पुतलों को कोरोना का रूप भी दिया है। रावण दहन के साथ ही कोरोना से भी मुक्ति की प्रार्थना की जाए।

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.