किसान मजदूर संघर्ष समिति से जुड़े किसानों ने अमृतसर में जलाई पराली, बोले - सरकार ने मुआवजा नहीं दिया, हम इसे केंद्र सरकार को मुफ्त में भी देने को तैयार

Samachar Jagat | Thursday, 23 Sep 2021 05:40:09 PM
Farmers associated with Kisan Mazdoor Sangharsh Samiti burnt stubble in Amritsar, said - the government did not give compensation, we are ready to give it to the central government for free.

इंटरनेट डेस्क। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हर वर्ष सर्दियों के समय पंजाब और हरियाणा में जलाई जाने वाली पराली का धुआं दिल्ली तक पहुंचता है। ये धुआं दिल्ली में लगातार प्रदूषण बढ़ा रहा है। हालांकि केंद्र सरकार ने हरियाणा और पंजाब के किसानों से पराली के संबंध में बात की थी लेकिन अभी तक इसपर कोई सहमति नहीं बनी है। आज गुरुवरार को पंजाब के अमृतसर में किसान मजदूर संघर्ष समिति के तत्वावधान में किसानों ने बड़ी मात्रा में पराली जलाकर केंद्र सरकार का विरोध किया। 

 

Punjab: Farmers, under aegis of Kisan Mazdoor Sangharsh Committee, burn stubble in Amritsar

A farmer Savinder Singh says "We're compelled to do it. Requested Govt for compensation of around Rs 6000/acre but nothing was done. Ready to give it for free if Govt ready to collect it" pic.twitter.com/Crn8tM5xxK

— ANI (@ANI) September 23, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, किसान मजदूर संघर्ष समिति से जुड़े किसानों ने आज गुरुवार को पराली जलाते हुए कहा कि हम इसे करने के लिए मजबूर हैं। सरकार से लगभग 6000 रुपये प्रति एकड़ के मुआवजे के लिए अनुरोध किया, लेकिन कुछ भी नहीं किया गया। अगर सरकार इसे लेने के लिए तैयार है तो इसे मुफ्त में देने के लिए तैयार है। 

गौरलतब है कि पराली जलने से दिल्ली में प्रदूषण की मात्रा लगातार बढ़ रही है। सर्दियों में पराली जलने से दिल्ली का नजारा बेहद की प्रदूषित नजर आता है। यही वजह थी कि केंद्र सरकार ने पराली के एवज में मुआवजा देने और इसे लेने के लिए किसानों से बात की थी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.