बीजेपी सांसद के पद से आधिकारिक रूप से इस्तीफा देते समय भावुक हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो, बोले - जिस पार्टी के लिए मैंने 7 साल मेहनत की उसे छोड़ते समय मन व्यथित हो रहा

Samachar Jagat | Tuesday, 19 Oct 2021 12:55:47 PM
Former Union Minister Babul Supriyo got emotional while officially resigning from the post of BJP MP, said - I am feeling distressed while leaving the party for which I worked for 7 years

इंटरनेट डेस्क। केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलने के बाद भारतीय जनता पार्टी से इस्तीफा देकर ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल होने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद बाबुल सुप्रियो आज आधिकारिक तौर पर सांसद के पद से इस्तीफा देने के लिए कोलकाता से नई दिल्ली पहुंचे। लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला को सांसद के तौर पर इस्तीफा सौंपने के बाद TMC नेता बाबुल सुप्रियो ने कहा कि जिस पार्टी के लिए मैंने 7 साल मेहनत की तो पार्टी छोड़ते वक्त दिल व्यथित था। मैं PM नरेंद्र मोदी, अमित शाह, जे.पी. नड्डा और राजनाथ सिंह का आभार व्यक्त करता हूं। 

 

My heart is heavy as I had began my political career through BJP. I thank PM,party chief&Amit Shah. Confidence was shown in me. I'd left politics wholeheartedly.I thought that if I'm not a part of the party, I shouldn't keep seat for myself: Babul Supriyo after meeting LS Speaker pic.twitter.com/Lmr3toQkpH

— ANI (@ANI) October 19, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, पूर्व भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो ने दिल्ली में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी कुछ महीने पहले टीएमसी का अभिन्न हिस्सा थे। राजनीति से बाहर वह मेरे दोस्त रहे हैं, जाहिर तौर पर उन्हें राजनीतिक तौर पर मेरे बारे में बहुत कटु बातें करनी पड़ती हैं। लेकिन उन्हें अपने पिता और भाई को एमपी की सीटों से इस्तीफा देने की सलाह देनी चाहिए क्योंकि वे अब टीएमसी का हिस्सा नहीं हैं। 

बाबुल सुप्रियो ने कहा कि मेरा दिल भारी है क्योंकि मैंने अपना राजनीतिक जीवन भाजपा से शुरू किया था। मैं पीएम, पार्टी प्रमुख और अमित शाह को धन्यवाद देता हूं। मुझमें आत्मविश्वास दिखा। मैंने पूरे मन से राजनीति छोड़ दी। मैंने सोचा कि अगर मैं पार्टी का हिस्सा नहीं हूँ, तो मुझे अपने लिए सीट नहीं रखनी चाहिए। 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.