अफस्पा को वापस लेने की मांग के बीच सरकार ने पूरे नगालैंड को 'अशांत क्षेत्र’ घोषित किया

Samachar Jagat | Thursday, 30 Dec 2021 10:39:03 AM
Government declares entire Nagaland as 'disturbed area' amid demands to withdraw AFSPA

नयी दिल्ली। केंद्र ने नगालैंड की स्थिति को ''अशांत और खतरनाक’’ करार दिया तथा सशस्त्र बल (विशेषाधिकार) अधिनियम (अफस्पा) के तहत 30  दिसंबर से छह और महीने के लिए पूरे राज्य को ''अशांत क्षेत्र’’ घोषित कर दिया।

यह कदम केंद्र सरकार द्बारा नगालैंड से विवादास्पद अफस्पा को वापस लेने की संभावना की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय समिति के गठन के कुछ दिनों बाद उठाया गया है। अफस्पा नागालैंड में दशकों से लागू है।

गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना में कहा गया है, ''केंद्र सरकार की राय है कि पूरे नगालैंड राज्य का क्षेत्र इतनी अशांत और खतरनाक स्थिति में है कि नागरिक प्रशासन की सहायता के लिए सशस्त्र बलों का उपयोग है।’’

अधिसूचना के अनुसार, ''इसलिए सशस्त्र बल (विशेषाधिकार) अधिनियम, 1958 (1958 की संख्या 28) की धारा तीन द्बारा प्रदत्त शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए केंद्र सरकार 30  दिसंबर, 20 21 से छह महीने की अवधि के लिए पूरे नगालैंड राज्य को 'अशांत क्षेत्र’ घोषित करती है।’’

अधिसूचना गृह मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव पीयूष गोयल द्बारा जारी की गई, जिन्हें अफस्पा को वापस लेने की संभावना की जांच के लिए गठित समिति में सदस्य सचिव नामित किया गया था। समिति के अध्यक्ष सचिव स्तर के अधिकारी विवेक जोशी हैं। नगालैंड में 14 आम नागरिकों की हत्या को लेकर बढ़े तनाव को शांत करने के लिए इस उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया था। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.