हाथरस गैंगरेप आरोपियों का नया दांव, एसपी को चिट्ठी लिखकर मृतका के परिवार को ठहराया उसकी मौत का जिम्मेदार

Samachar Jagat | Thursday, 08 Oct 2020 01:27:21 PM
Hathras gangrape accused, wrote letter to SP

हाथरस। पूरे देश को झकझोर कर रख देने वाले हाथरस गैंगरेप केस में अब नया मोड़ आ गया है।  आरोपी और पीडि़त पक्ष के बीच कॉल डीटेल रेकॉर्ड सामने आने के बाद अब जेल में बंद चारों आरोपियों ने खुद को बेकसूर बताते हुए ऑनर किलिंग का सनसनीखेज दावा किया है।
हाथरस कांड में जेल में बंद चार आरोपी संदीप, रवि, लवकुश और रामू की तरफ से एसपी को एक चिट्ठी  भेजी गई है। इस चिट्ठी में आरोपियों ने दावा किया है उनपर लगाए गए सारे आरोप झूठे हैं और उन्हें गलत ढंग से जेल में बंद किया गया है।

मुख्य आरोपी संदीप ने दावा किया है कि उसकी पीडि़ता से दोस्ती थी लेकिन पीडि़ता के परिवार को यह दोस्ती पसंद नहीं थी। आरोपियों का कहना है कि पीडि़ता को उसकी मां और भाई ने मारा है। वहीं पीडि़ता के परिजनों चिट्ठी  पर कहा कि आरोपी सजा से बचने के लिए यह दांव चल रहे हैं।

आरोपी संदीप ने लिखा है, घटना वाले दिन खेत में पीडि़ता से मुलाकात हुई थी। उसके मां और भाई भी थे। उसके (पीडि़ता) के कहने पर मैं तुरंत घर चला गया और वहां अपने पिता के साथ पशुओं को पानी पिलाने लगा।

मुझे कुछ देर बाद गांववालों से पता चला कि मेरी, पीडि़ता से दोस्ती थी इसलिए उसके भाई और मां ने उसे मारा-पीटा है। पिटाई के कारण उसे गंभीर चोटें आईं, बाद में वह मर गई। मैंने कभी भी पीडि़ता तो मारा नहीं और न ही कोई गलत काम किया। गौरतलब है कि हाथरस गैंगरेप की घटना के बाद पूरे देश में आक्रोश फैला हुआ है।

मामले की जांच एसआईटी कर रही है। हाथरस पूरी पुलिस छावनी में तब्दील हो गई है। हाथरस पीडि़त परिवार से राहुल-प्रियंका सहित विपक्ष के कई नेता मिलने आ रहे हैं।

पीडि़ता के साथ ज्यादती की सभी हदें करते हुए गैंगेरेप के साथ साथ कमर की हड्डियां और दांत तक तोडऩे की बात सामने आ रही है। पीडि़ता की मृत्यू के बाद उसका गुपचुप रात के अंधेरे में अंतिम संस्कार करने की वजह से पूरे देश में विरोध के स्वर उठ रहे हैं।

 



 
loading...


Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.