जम्मू में राहुल गांधी ने कांग्रेस के चुनाव चिन्ह हाथ की नई परिभाषा दी, बोले - हाथ का मतलभ आशीर्वाद नहीं, इसका मतलब है डरो मत, सत्य बोलने से डरो मत

Samachar Jagat | Friday, 10 Sep 2021 04:20:17 PM
In Jammu, Rahul Gandhi gave a new definition to Congress's election symbol hand, said - hand does not mean blessing, it means do not be afraid, do not be afraid to speak the truth

इंटरनेट डेस्क। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी जम्मू के दो दिवसीय दौरे पर हैं। राहुल गांधी ने जम्मू में माता वैष्णो देवी के दर्शन भी किए। इसके बाद आज शुक्रवार को जम्मू में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि लोग कहते हैं कि हाथ चिह्न का मतलब आर्शीवाद होता है, इसका मतलब आर्शीवाद नहीं होता है जबकि इसका मतलब डरो मत होता है, सत्य बोलने से डरो मत इसलिए ये चिह्न कांग्रेस पार्टी का चिह्न है और बीजेपी सच्चाई से डरते हैं। BJP डर है और कांग्रेस उस डर के आगे का विकल्प है। 

#WATCH लोग कहते हैं कि हाथ चिह्न का मतलब आर्शीवाद होता है,इसका मतलब आर्शीवाद नहीं होता है जबकि इसका मतलब डरो मत होता है, सत्य बोलने से डरो मत इसलिए ये चिह्न कांग्रेस पार्टी का चिह्न है और बीजेपी सच्चाई से डरते हैं। BJP डर है: जम्मू में कांग्रेस नेता राहुल गांधी #JammuAndKashmir pic.twitter.com/Jae6Jx9U7Z — ANI_HindiNews (@AHindinews) September 10, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार,  राहुल गांधी ने कहा कि कि जब भी मैं जम्मू-कश्मीर आता हूं, मुझे लगता है कि मैं घर आ गया हूं। मेरे परिवार का जम्मू-कश्मीर से पुराना रिश्ता है। राहुल ने 'जय माता दी' के नारे से पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाया। इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी के अंदाज में मित्रों शब्द संबोधित किया। फिर तंज भी कसा और कहा मैंने मित्रों शब्द से संबोधित तो कर दिया लेकिन ये मित्रों जैसा काम नहीं करते।

राहुल गांधी ने कहा कि माता वैष्णो देवी के धाम में दुर्गा जी, लक्ष्मी जी और सरस्वती जी विराजमान हैं। दुर्गा वो शक्ति हैं जो रक्षा करती हैं। लक्ष्मी जी लक्ष्य को पूरा करती हैं और सरस्वती जी ज्ञान देती हैं। ये तीनों शक्तियां जब घर और देश में होती हैं तो तरक्की निश्चित ही होती है। 

 

 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.