‘अमर जवान ज्‍योत‍ि’ हटाने पर राहुल गांधी के व‍िरोध पर भारत सरकार ने द‍िया ये जवाब

Samachar Jagat | Friday, 21 Jan 2022 11:18:58 AM
'It is a matter of great sorrow'- Rahul Gandhi on removal of 'Amar Jawan Jyoti' from India Gate

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में इंडिया गेट पर जलने वाली अमर जवान ज्योति का आज राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलती लौ में विलय होगा. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस फैसले का विरोध किया है. राहुल गांधी ने कहा है कि कुछ लोग देशभक्ति और बलिदान को नहीं समझ सकते। अमर जवान ज्योति पिछले 50 सालों से इंडिया गेट पर जल रही है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, 'बहुत दुख की बात है कि अमर ज्योति, जो हमारे वीर जवानों के लिए जलती थी, आज बुझ जाएगी. कुछ लोग देशभक्ति और बलिदान को नहीं समझ सकते. कोई बात नहीं. हम एक बार फिर अमर जवान ज्योति जलाएंगे. हमारे सैनिकों के लिए।

सेना के अधिकारियों ने बताया कि अमर जवान ज्योति का शुक्रवार दोपहर नेशनल वॉर मेमोरियल में जलती लौ के साथ विलय किया जाएगा, जो इंडिया गेट के दूसरी तरफ महज 400 मीटर की दूरी पर है. पीएम नरेंद्र मोदी ने 25 फरवरी, 2019 को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का उद्घाटन किया, जहां 25,942 जवानों के नाम सुनहरे अक्षरों में लिखे गए हैं।


 
अमर जवान ज्योति की स्थापना 1971 के भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों की याद में की गई थी। इस युद्ध में भारत को सफलता मिली और बांग्लादेश का गठन हुआ। इसका उद्घाटन तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 26 जनवरी 1972 को किया था।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.