जहांगीरपुरी हिंसा: खंगाला जा रहा है आरोपियों का बंगाल नेटवर्क, अंसार की नानी के घर बंगाल पहुंची क्राइम ब्रांच; परिजनों से की पूछताछ

Samachar Jagat | Thursday, 21 Apr 2022 02:49:34 PM
Jehangirpuri violence networked to Bengal, Crime Branch reaches home of prime accused 'Ansar''s maternal grandmother

कोलकाता: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में भड़की हिंसा की जांच का दायरा दिल्ली से लेकर बंगाल तक पहुंच गया है. मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार मुख्य आरोपी अंसार, सोनू और एक नाबालिग के पूरे नेटवर्क की कुंडली खोलना शुरू कर दिया है. इसके तहत नेटवर्क से जुड़े उन संदिग्धों की जानकारी जुटाई जा रही है, जो हिंसा के बाद पश्चिम बंगाल के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच गए हैं या इससे जुड़े हैं.

क्राइम ब्रांच की टीम सबसे पहले महिषादल थाने पहुंची। यहां कंचनपुर में एक आरोपी का घर है। पुलिस अधिकारियों ने उनके परिवार से बात की। इसके बाद पुलिस टीम सुथाहटा थाने भी पहुंच गई। इसके बाद वह हल्दिया में शेख अंसार के एक रिश्तेदार के घर पहुंचीं। इन रिश्तेदारों को उसका ससुर बताया जा रहा है। दरअसल, हिंसा का मुख्य आरोपी मोहम्मद अंसार है, जो दिल्ली में मोबाइल की दुकान चलाता है, साथ ही वह कबाड़ का काम भी करता है. अंसार रोजाना हल्दिया का दौरा करता रहता है। उनके रिश्तेदार हल्दिया में रहते हैं। अंसार से पूछताछ कर उसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।
 
तीन अलग-अलग टीमें दिल्ली से पश्चिम बंगाल पहुंच चुकी हैं। उन्हें अलग-अलग जिम्मेदारी दी गई है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक क्राइम ब्रांच की एक टीम अंसार की नानी के घर पहुंची और उसके नेटवर्क की जांच की, जबकि दूसरी टीम पूर्वी मिदनापुर जिले के महिषादलथा इलाके में पहुंची. कहा जाता है कि अंसार का बचपन यहीं बीता था और यहीं से उन्होंने दिल्ली का टिकट भी काटा था. वहीं तीसरी टीम फायरिंग के आरोपी सोनू उर्फ ​​यूनुस के घर नदिया पहुंच गई है. सोनू ने 16 अप्रैल की शाम को भीड़ के पास पहुंचकर फायरिंग की थी और फिर फरार हो गया था. लेकिन, पुलिस ने उसे 18 अप्रैल को इलाके के मंगल बाजार से गिरफ्तार किया था.



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.