असम की राजधानी गुवाहाटी में बोले RSS प्रमुख मोहन भागवत, CAA-NRC से भारतीय मुसलमानों को कोई खतरा नहीं, आजादी के बाद अल्पसंख्यकों के हितों का हमने ध्यान रखा लेकिन पाकिस्तान ने इसका पालन नहीं किया

Samachar Jagat | Wednesday, 21 Jul 2021 03:31:47 PM
RSS chief Mohan Bhagwat said in Guwahati, the capital of Assam, there is no threat to Indian Muslims from CAA-NRC, after independence we took care of the interests of minorities but Pakistan did not follow it

इंटरनेट डेस्क। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत आज बुधवार को असम की राजधानी गुवाहाटी के दौरे पर हैं। यहां उन्होंने आज एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हमें दुनिया से धर्मनिरपेक्षता, समाजवाद, लोकतंत्र सीखने की जरूरत नहीं है। क्योंकि ये सारी चीजें हमारी परंपराओं में पहले से है, ये हमारे खून में है। सीएए एनआरसी को लेकर उन्होंने कहा कि सीएए और एनआरसी भारत के किसी भी नागरिक के खिलाफ नहीं बने हैं। सीएए से भारतीय मुसलमानों को कोई नुकसान नहीं होगा।

 

We don't need to learn secularism, socialism, democracy from the world. This is in our traditions, in our blood. Our country has implemented these and kept them alive: RSS Chief Mohan Bhagwat, in Guwahati, Assam pic.twitter.com/byWzP4IRod — ANI (@ANI) July 21, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, आरएसएस प्रमुख भागवत गुवाहाटी में आज एक कार्यक्रम को संबोधित करते रहे थे इस दौरान उन्होंने देश की वर्तमान परिस्थितियों को लेकर अपने विचार रखे। उन्होंने सीएए पर बोलते हुए कहा कि विभाजन के बाद आश्वासन दिया गया था कि हम अपने देश के अल्पसंख्यकों का ख्याल रखेंगे। हम आज तक उसका पालन कर रहे हैं लेकिन पाकिस्तान ने इसका पालन नहीं किया। 

 

उन्होंने कहा कि धर्मनिरपेक्षता और समाजवाद व लोकतंत्र की अवधारणा हमारे देश के देन है। इऩ्हें हमें दुनिया से सीखने की कतई जरूरत नहीं है। हमारे देश ने इन्हें लागू किया है और इन्हें जीवित रखा है। 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.