रूस के टीके के असरदार, सुरक्षित होने को लेकर है संशय : सीसीएमबी प्रमुख

Samachar Jagat | Wednesday, 12 Aug 2020 05:30:01 PM
Russia's vaccines effective, there is doubt about safety: CCMB chief

हैदराबाद। सीएसआईआर- कोशिकीय एवं आणविक जीवविज्ञान केंद्र (सीसीएमबी) के एक शीर्ष अधिकारी ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 के उपचार के लिए विकसित किए गए रूस के टीके संबंधी पर्याप्त डेटा उपलब्ध नहीं होने के कारण इस टीके के असरदार होने और इस्तेमाल के लिए सुरक्षित होने के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता। सीसीएमबी के निदेशक राकेश के मिश्रा ने कहा कि यदि लोग ''भाग्यशाली’’ रहे तो रूस का टीका असरदार साबित होगा।

मिश्रा का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को घोषणा की थी कि उनके देश ने कोरोना वायरस के खिलाफ पहला टीका विकसित कर लिया है जो कोविड-19 से निपटने में ''बहुत प्रभावी ढंग से’’ काम करता है और ''एक स्थायी रोग प्रतिरोधक क्षमता’’ का निर्माण करता है।

इसके साथ ही उन्होंने खुलासा किया था कि उनकी एक बेटी को यह टीका पहले ही दिया जा चुका है।
मिश्रा ने कहा, ''टीके के असरदार होने और उसके इस्तेमाल के लिए सुरक्षित होने के बारे में अब भी कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने उचित परीक्षण नहीं किए, जो तीसरे चरण में किए जाते है। इसी चरण में आपको टीके के असरदार होने के बारे में पता चलता है। इस चरण में बड़ी संख्या में लोगों को टीका लगाया जाता है और दो महीने इंतजार किया जाता है और पता लगाया जाता है कि वे संक्रमित हैं या नहीं।’’
मिश्रा ने 'पीटीआई भाषा’ से कहा, ''ऐसा लगता नहीं कि उन्होंने यह (बड़े स्तर पर परीक्षण) किया है, क्योंकि यदि आपने ऐसा किया है, तो हमें डेटा दिखाइए। आप इसे गोपनीय नहीं रख सकते।’’

उन्होंने कहा कि टीके को लोगों तक पहुंचाने से पहले उसका सावधानी से आकलन किया जाना चाहिए और कोई देश या कंपनी टीके के संबंध में डेटा जारी नहीं कर रही है, तो यह गलत बात है। मिश्रा ने कहा, '' यह सुरक्षित नहीं है... पहले, दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण से गुजरने से पहले टीका उपलब्ध नहीं कराया जाना चाहिए।’’

यह पूछे जाने पर कि टीका विकसित करने की कोशिश कर रही दवाइयां बनाने वाली भारतीय कंपनियों को कितनी सफलता मिली है, उन्होंने कहा कि पहले और दूसरे चरण संबंधी डेटा को अभी प्रकाशित किया जाना है और उनके अगस्त के अंत या मध्य सितंबर में जारी होने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा, ''यदि पहले और दूसरे चरण के परिणाम उत्साहवर्धक रहते हैं, तो मुझे हैरानी नहीं होगी, क्योंकि कई टीके इन दोनों चरणों में सफल रह चुके है। असल परीक्षा तीसरे चरण में है।’’ (एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.