संस्कृत का अपमान बर्दाश्त नहीं : अनुराग ठाकुर

Samachar Jagat | Monday, 10 Feb 2020 03:56:22 PM
Sanskrit insult is not tolerated: Anurag Thakur

नई दिल्ली। केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने आज लोक सभा में कहा कि वह सभी भारतीय भाषाओं का सम्मान करते हैं लेकिन संस्कृत के खिलाफ जिस प्रकार की सदन में टिप्पणी की गयी है वह निंदनीय है। सामान्य बजट पर चर्चा के दौैरान द्रविड़ मुनेत्र कषगम के नेता दयानिधि मारन ने कहा कि सरकार संस्कृत जैसी मृत भाषा के विकास पर करोड़ों रुपये खर्च कर रही है लेकिन तमिल भाषा के विकास पर कोई रकम नहीं दी गयी है।



loading...

 इस पर ठाकुर ने कहा कि संस्कृत के लिए जिस प्रकार के शब्द का इस्तेमाल किया गया है उसे सदन से निकाला जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस पर  मारन को माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बजट की आलोचना करना या वित्त मंत्री की आलोचना करना है, करिये, लेकिन संस्कृत के साथ अपमान बर्दाश्त नही किया जाएगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने कहा कि संस्कृत के खिलाफ टिप्पणी के लिए मारन को अवश्य माफी मांगनी चाहिए। इस बीच पीठासीन अध्यक्ष रमा देवी ने कहा कि सदस्य के बयान की जांच करायी जाएगी उसके बाद आपत्तिजनक शब्द को हटाने का निर्णय लिया जाएगा। -(एजेंसी)

loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.