विधयको के दबाव से मुक्त होने पर ही बहुमत परीक्षण होगा: कमलनाथ

Samachar Jagat | Monday, 16 Mar 2020 12:49:17 PM
The majority test will be done only after the legislators are free from pressure: Kamal Nath,

भोपाल, मध्य प्रदेश में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रमों के बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोमवार को कांग्रेस के कई विधायकों को बंदी बनाये जाने का आरोप लगाया।

श्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन को लिखे पत्र में यह आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कई विधायकों को बन्दी  बना लिया गया है और इस तरह की परिस्थिति में विधानसभा में बहुमत परीक्षण कराये जाने का कोई औचित्य नहीं है।

उन्होंने पत्र में जोर देकर कहा कि विधायकों के किसी तरह की बंदिश से बाहर रहने तथा पूरी तरह से दबाव मुक्त होने पर ही बहुमत परीक्षण कराना उचित होगा, अन्यथा यह सुनिश्चित रूप से अलोकतांत्रिक और असंवैधानिक कदम होगा।

मुख्यमंत्री ने आज के पत्र में राज्यपाल को पूर्व में 13 मार्च को लिखे गये पत्र का भी उल्लेख किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि कांग्रेस के कई विधायकों को बंदी बनाकर कर्नाटक ले जाया गया है और वहां की पुलिस के नियंत्रण में रखकर उनसे विभिन्न प्रकार के बयान लिखवाने की कोशिश की जा रही है।

 उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कांग्रेस के विधायकों को रिश्वत और अन्य प्रलोभन देकर अपने पक्ष में करने का षडयंत्र रच रही है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.