लखीमपुर खीरी घटना पर बोले केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा, मेरा पुत्र यदि गाड़ी चला रहा होता तो उसकी हत्या हो गई होती, 10-12 लोग किसी पर गाड़ी चढ़ाकर निकल जाएं ऐसा संभव नहीं

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Oct 2021 01:22:52 PM
Union Minister of State for Home Ajay Mishra said on Lakhimpur Kheri incident, if my son had been driving, he would have been killed, it is not possible for 10-12 people to leave by riding on someone

इंटरनेट डेस्क। यूपी के लखीमपुर खीरी में रविवार को हुए हादसे का देशभर में विरोध जारी है। वहीं आज मंगलवार को लखीमपुर खीरी घटना पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी ने कहा कि FIR कराने का हक सबको है। उन्होंने FIR कराई है। सबूत इकट्ठे होंगे तो सारी बातें स्पष्ट हो जाएंगी। हम कार्यक्रम स्थल पर नहीं थे न हमारा पुत्र वहां था। ये सारी बातें स्पष्ट हो चुकी हैं। हमें किसी जांच से कहीं कोई समस्या नहीं है। 

 

जो सूचनाएं और जो वीडियो देखने को मिल रहे हैं गाड़ी के ड्राइवर की वहीं पर खींचकर हत्या की गई। अगर मेरा पुत्र चला रहा होता तो उसकी हत्या हो गई होती। वहां इस तरह हजारो की भीड़ में 10-12 लोग किसी पर गाड़ी चढ़ाकर निकल जाएंगे ऐसा संभव नहीं है: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी pic.twitter.com/I2IzZ9hRGX — ANI_HindiNews (@AHindinews) October 5, 2021

एएनआई न्यूज एजेंसी के अनुसार, लखीमपुर खीरी घटना में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा का नाम सामने आ रहा है। वहीं अजय मिश्रा और उनके बेटे आशीष मिश्रा का कहना है कि जब घटना हुई तो वे गाड़ी में नहीं थे। वे एक दंगल का उद्घाटन करने पहुंचे। उनका ड्राइवर ही गाडी़ लेकर जा रहा था जिस दौरान ये हादसा घटा। 

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने कहा कि जो सूचनाएं और जो वीडियो देखने को मिल रहे हैं गाड़ी के ड्राइवर की वहीं पर खींचकर हत्या की गई। अगर मेरा पुत्र चला रहा होता तो उसकी हत्या हो गई होती। वहां इस तरह हजारो की भीड़ में 10-12 लोग किसी पर गाड़ी चढ़ाकर निकल जाएंगे ऐसा संभव नहीं है। 

 



 
loading...



Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.