हम भाजपा और आरएसएस की विचारधारा को देश को बांटने नहीं देंगे : Rahul Gandhi

Samachar Jagat | Tuesday, 20 Sep 2022 09:16:26 AM
We will not let the ideology of BJP and RSS divide the country: Rahul Gandhi

अलप्पुझा (केरल) |  कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नफरत और हिसा फैलाती है और क ांग्रेस राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की विचारधारा को देश को बांटने नहीं देगी। उन्होंने यहां चेरथला में पार्टी के 'भारत जोड़ो यात्रा’ के शाम के चरण के समापन के दौरान यह बात कही। कांग्रेस  कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि अगर देश नफरत और आक्रोश की नीतियों का पालन करता है तो इसकी प्रगति असंभव है।

गांधी ने अपनी 150 दिनों की लंबी यात्रा के लिए केरल में भारी संख्या में लोगों के जुटने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि लोग उनकी यात्रा में शामिल हो रहे हैं क्योंकि वे समझते हैं कि देश का भविष्य खतरे में है। कांग्रेस  नेता ने कहा, “क्या आपको लगता है कि एक विभाजित देश बेरोजगारी जैसी समस्याओं को हल कर सकता है? क्या आपको लगता है कि एक विभाजित समाज अस्पतालों, सड़कों का निर्माण कर सकता है और हमारे बच्चों को शिक्षित कर सकता है? अगर हम नफरत के रास्ते पर चलते रहे तो भारत के लिए ऐसी समस्याओं को हल करना असंभव है।”

उन्होंने कहा कि ये आम लोग ही हैं, जिनके माध्यम से यह देश चलता है और इन्हीं को फैलाई जा रही नफरत की कीमत चुकानी पड़ती है। राहुल गांधी ने कहा, “यह कैसी बात है कि हमारे पास दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं लेकिन हमारे लोग वस्तुओं के लिए सबसे अधिक कीमत चुकाते हैं? क्या हम इसे स्वीकार कर सकते हैं?’’ उन्होंने कहा, ''हम आरएसएस और भाजपा की विचारधारा को इस देश को विभाजित करने नहीं देंगे और हम ऐसे भारत को स्वीकार नहीं करेंगे, जहां लाखों भारतीय बेरोजगार हों। हम ऐसे भारत को स्वीकार नहीं करेंगे, जहां लाखों लोग वस्तुओं के लिए ऊंची कीमतों का बोझ ढो रहे हों।”

गांधी ने कहा कि उन्होंने पिछले कुछ दिन में केरल को आत्मविश्वास से भरा देखा है क्योंकि राज्य नफरत, आक्रोश या हिसा में विश्वास नहीं करता है। उन्होंने आरोप लगाया, “आज भारत आक्रोश, हिसा और नफरत से भरा है। भाजपा इस नफरत और हिसा को फैलाती है। यह उनके डीएनए में है और नतीजा यह है कि मुट्ठी भर लोग अरबों का मुनाफा कमाते हैं।” इससे पहले उन्होंने यात्रा के 12वें दिन की शुरुआत करने से पहले यहां वडकल समुद्र तट पर मछुआरा समुदाय से संवाद किया।

गांधी ने सुबह-सुबह मछुआरों से मुलाकात की और ईंधन के बढ़ते दामों, सब्सिडी में कटौती, कम होते मत्स्य भंडार तथा पर्यावरण को हो रहे नुकसान सहित विभिन्न चुनौतियों पर चर्चा की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ''राहुल गांधी ने ईंधन की बढ़ती कीमतों, सब्सिडी में कटौती, कम होते मत्स्य भंडार, पेंशन न मिलने, शिक्षा के अपर्याप्त अवसरों और पर्यावरण को हो रहे नुकसान संबंधी चुनौतियों पर सुबह छह बजे अलप्पुझा के वडकल समुद्र तट पर मछुआरा समुदाय से बातचीत की।’’

'भारत जोड़ो यात्रा’ सोमवार को पुन्नपरा से शुरू हुई और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के. मुरलीधरन, के. सुरेश, रमेश चेन्नीथला, के. सी. वेणुगोपाल और केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता वी. डी. सतीशन भी गांधी के साथ पदयात्रा में मौजूद रहे। कांग्रेस  की 3,570 किलोमीटर और 150 दिन लंबी पदयात्रा सात सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी, जो जम्मू-कश्मीर में संपन्न होगी। 'भारत जोड़ो यात्रा’ 10 सितंबर की शाम को केरल पहुंची थी और यह एक अक्टूबर को कर्नाटक पहुंचने से पहले 19 दिनों में केरल के सात जिलों से गुजरते हुए 450 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.