यस बैंक मामला: प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष उपस्थित नहीं हुए वाधवान

Samachar Jagat | Wednesday, 18 Mar 2020 11:20:47 AM
Yes Bank case: Wadhawan did not appear before Enforcement Directorate

नयी दिल्ली , डीएचएफएल के प्रवर्तक कपिल और धीरज वाधवान, यस बैंक के प्रवर्तक राणा कपूर और अन्य के खिलाफ मनी लांड्रिंग जांच के सिलसिले में मंगलवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष उपस्थित नहीं हुए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

जांच एजेंसी ने संकट में घिरे बैंक और गिरफ्तार कपूर तथा उनके परिवार से उनके लेन-देन के बारे में जानकारी के लिये दोनों भाइयों को मुंबई कार्यालय में बुलाया था।

ऐसी संभावना है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) उन्हें उपस्थित होने के लिये नया समन देगा। एजेंसी साथ ही कपिल वाधवान को मिली जमानत रद्द करने के लिये अदालत भी जा सकती है।

डीएचएफएल (दीवान हाउसिग फाइनेंस लि.) समूह के ऊपर यस बैंक का 3,7०० करोड़ रुपये का कर्ज था। यह कर्ज अब एनपीए (गैर-निष्पादित परिसंपत्ति) बन गया है।

ईडी आपराधिक मामले के तहत दोनों समूह के बीच कथित परस्पर लाभ के लिये गठजोड़ की जांच कर रहा है। यह मामला मनी लांड्रिंग निरोधक कानून के तहत दर्ज किया गया है और दिवंगत सरगना इकबाल मिर्ची से जुड़ा है।
डीएचएफल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक कपिल वाधवान को एजेंसी ने कथित वसूली और मनी लांड्रिंग के मामले में गिरफ्तार किया था और वह अब जमानत पर हैं।

केंद्रीय जांच एजेंसी ने राणा कपूर से जुड़े जांच के सिलसिले में रिलायंस अनिल धीरूभाई समूह के चेयरमैन अनिल अंबानी, एस्सेल समूह के प्रवर्तक सुभाष चंद्रा, जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल और इंडिया बुल्स के चेयरमैन समीर गहलोत समेत कुछ अन्य शीर्ष उद्योगपतियों को इस सप्ताह तलब किया है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.