यूएई में छह की बजाय तीन दिन का पृथकवास, संपर्करहित खाने की डिलीवरी चाहती हैं आईपीएल टीमें

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Aug 2020 12:34:45 PM
IPL teams want three days of segregation, delivery of contactless food instead of six in UAE

नयी दिल्ली। आईपीएल टीमें यूएई में छह की बजाय तीन दिन का पृथकवास चाहती हैं और पूर्व सूचना के साथ टीम और पारिवारिक डिनर के आयोजन के लिये उन्होंने बोर्ड की अनुमति भी मांगी है ।
बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई से कहा कि इसके साथ ही टीमों ने होटल में बाहर से संपर्क रहित खाने की डिलीवरी की अनुमति का भी अनुरोध किया है जिस पर बुधवार की शाम टीम मालिकों और आईपीएल अधिकारियों की बैठक में बात की जायेगी ।
बीसीसीआई की मौजूदा मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुसार खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की यूएई में पृथकवास के दौरान पहले , तीसरे और छठे दिन जांच की जायेगी । इसके बाद ही उन्हें अभ्यास की अनुमति दी जायेगी । इसके बाद भी 53 दिन तक चलने वाले टूर्नामेंट में हर पांचवें दिन उनकी जांच होगी ।
अधिकारी ने कहा ,'' अधिकांश खिलाड़ियों ने छह महीने से क्रिकेट नहीं खेला है तो वे ज्यादा से ज्यादा अभ्यास करना चाहते हैं ।’’
उन्होंने कहा ,''चिकित्सा विशेषज्ञों की सलाह के आधार पर क्या हम पृथकवास छह की बजाय तीन दिन का कर सकते हैं । क्या खिलाड़ियों को 'बायो बबल’ में अभ्यास की अनुमति दी जा सकती है ।’’
बीसीसीआई ने टीमों को 2० अगस्त के बाद ही यूएई रवाना होने के लिये कहा है । चेन्नई सुपर किग्स समेत कुछ टीमें जल्दी जाना चाहती थी ।
इसमें यह भी कहा गया ,'' क्या टीमों को 2० की बजाय 15 अगस्त के बाद जाने की अनुमति दी जा सकती है ताकि उन्हें अभ्यास और तैयारी के लिये उचित समय मिल सके ।’’
बीसीसीआई एसओपी के अनुसार खिलाड़ियों और टीम मालिकों के परिवार आईपीएल के दौरान जैव सुरक्षित माहौल में ही रहेंगे । टीमें चाहती है कि बीसीसीआई इसकी समीक्षा करे ।
उन्होंने कहा ,'' मौजूदा एसओपी के अनुसार वे टीम के साथ संपर्क नहीं कर सकते जब तक बबल का हिस्सा नहीं हों । टीम मालिक तीन महीने तक बबल में नहीं रह सकेंगे । इसलिये चिकित्सा सलाह के आधार पर मालिकों और परिवार के साथ विशेष प्रोटोकॉल बनाया जा सकता है ।’’
यूएई में पृथकवास के दौरान खिलाड़ियों को टीम के दूसरे सदस्यों से भी बातचीत की अनुमति नहीं रहेगी । वे तीन कोविड टेस्ट होने के बाद ही ऐसा कर सकेंगे ।
टीमों ने यह भी जानना चाहा है कि क्या खिलाड़ी अपनी अपनी टीमों के प्रति व्यावसायिक दायित्वों का निर्वाह भी कर सकेंगे जिसके लिये उन्हें शूटिग और लोगों से मिलना पड़ सकता है । 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.