टोक्यो पैरालंपिक्स में चक्का फेंक में भारतीय एथलीट विनोद कुमार ने गंवाया कांस्य पदक, पैरालंपिक्स एसोसिएशन ने समीक्षा के बाद 'अयोग्य' करार दिया

Samachar Jagat | Monday, 30 Aug 2021 06:50:11 PM
Tokyo Paralympics Technical Delegates decide Vinod Kumar is not eligible for Discus F52 class, his result in the competition is void and he loses the bronze medal

स्पोर्ट्स डेस्क। टोक्यो पैरालंपिक्स में कल रविवार को चक्का फेंक (डिस्कस थ्रो) स्पर्धा में कांस्य पदक जीतने वाले भारतीय एथलीट विनोद कुमार को असफलता हाथ लगी है। उन्होंने पैरालंपिक की पुरुषों की एफ-52 स्पर्धा का ब्रॉन्ज मेडल गंवा दिया है। दरअसल पैरालंपिक्स एसोसिएशन ने समीक्षा के बाद उन्हें 'अयोग्य' करार दिया था। इसके बाद कल उनका रिजल्ट होल्ड पर रखा गया था जिसका परिणाम आज जारी किया गया। 

 

Tokyo Paralympics Technical Delegates decide Vinod Kumar is not eligible for Discus F52 class, his result in the competition is void and he loses the bronze medal pic.twitter.com/m5zzaaINZX

— ANI (@ANI) August 30, 2021

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार,  विनोद को क्लासीफिकेशन में एफ52 में रखा गया था। और इसी क्लासीफिकेशन को चुनौती दी गई है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि किस आधार पर क्लासिफिकेशन को चुनौती दी गयी है। प्रतियोगिता में क्लासिफिकेशन निरीक्षण के कारण इस स्पर्धा का नतीजा अभी समीक्षा के लिए भेजा गया था। 

विनोद कुमार ने डिस्क्स थ्रो की F52 कैटेगरी में 19.98 मीटर थ्रो किया। इसके साथ ही उन्होंने एशियन रिकॉर्ड भी तोड़ डाला। विनोद ने डिस्कस थ्रो इवेंट में अपने छह प्रयासों में ये उपलब्धि हासिल की। उनका पांचवा में प्रयास में 19.98 मी. के साथ उन्हें कांस्य पदक मिला। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.