World Cup1992: आज ही के दिन इस नियम के कारण शर्मसार हुआ था क्रिकेट

Samachar Jagat | Monday, 22 Mar 2021 12:16:19 PM
World Cup1992: Due to this rule, cricket was embarrassed on this day

इंटरनेट डेस्क। आज के दिन को दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम कभी भी याद नहीं रखना चाहेगी। आज ही के दिन यानी 22 मार्च, 1992 को क्रिकेट के एक नियम के कारण दक्षिण अफ्रीका को विश्व कप से बाहर होना पड़ा था। 

ये बात 1992 विश्वकप सेमीफाइनल की बात है।  दक्षिण अफ्रीका को फाइनल में पहुंचने के लिए इस मैच में 13 गेदों पर 22 रन की जरूर थी। लेकिन बारिश ने दक्षिण अफ्रीक की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। क्रिकेट के एक नियम के तहत दक्षिण अफ्रीका को बाद में एक गेंद पर असंभव लक्ष्य मिला था। 

करीब 22 साल तक अपने देश की रंगभेदी नीतियों के कारण क्रिकेट जगत से बहिष्कार झेलने वाले दक्षिण अफ्रीका को मैच जीतने के लिए 45 ओवर में 253 रनों का लक्ष्य मिला था। जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने हडसन (46) और जॉन्टी रोड्स (43) की पारियों की मदद से 42.5 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 231 रन बना लिए थे। जब दक्षिण अफ्रीका को 13 गेंदों पर 22 रनों की जरूरत थी उसी समय बारिश आ गई थी। 
उस समय के नियमों के आधार पर दक्षिण अफ्रीका को एक गेंद पर 22 रन का लक्ष्य मिला। हालांकि बाद में इसे बदलकर एक गेंद पर 21 रन का लक्ष्य दिया गया। ये देखकर दर्शक चौंक गए। गौरतलब है कि इस समय डकवर्थ-लुइस और स्टर्न नियम नहीं था। नियम यह था कि बारिश के कारण ओवर कम होते हैं तो पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम की पारी के उन ओवरों की गिनती नहीं की जाएगी, जिसमें सबसे कम रन बने थे। इसी आधार पर दक्षिण अफ्रीका को ये लक्ष्य मिला था। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.