एचपीसीएल की पांच साल में 75,000 करोड़ रुपए पूंजी व्यय की योजना

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 12:00:26 PM
75,000 crores capital expenditure plan in five years of HPCL

मुंबई। ओएनजीसी के स्वामित्व वाली हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड ( एचपीसीएल ) ने कहा कि उसकी अगले पांच साल के दौरान 75, 000 करोड़ रुपए के पूंजी व्यय की योजना है। इसमें से 8,425 करोड़ रुपए इसी वित्त वर्ष में खर्च किए जायेंगे। कंपनी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक एम.के. सुराणा ने कहा कि इसमें से ज्यादातर खर्च कंपनी की क्षमता विस्तार और नई अथवा पुरानी परियोजनाओं पर किया जाएगा। सुराणा ने कहा, हमने अगले पांच साल के लिए 75,000 करोड़ रुपए के पूंजीगत खर्च की योजना बनाई है।

'सेक्रेड गेम्स' के निर्देशन के लिए वाहवाही बटोर चुके निर्देशक विक्रमादित्य मोटवानी ने वेब सीरीज को लेकर कही ये बात

औसतन हर साल हम 6,000 करोड़ रुपए का निवेश करते रहे हैं। लेकिन चालू वित्त वर्ष के दौरान हम 8,425 करोड़ रुपए निवेश कर रहे हैं। हम अपनी विशाखापत्तनम और मुंबई रिफाइनरियों का क्षमता विस्तार कार्य तेजी से पूरा करने जा रहे हैं।उन्होंने कहा कि 75,000 करोड़ रुपए के प्रस्तावित पूंजी व्यय में से ज्यादातर खर्च राजस्थान में तैयार होने वाले 43,000 करोड़ रुपए की नई रिफाइनरी में होगा। इसके साथ ही विशाखापत्तनम रिफाइनरी के 22,000 करोड़ रुपए के विस्तार कार्य पर भी काफी राशि खर्च होगी। 

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने फिल्म मंटो के लिए वसूली इतनी रकम, आज तक किसी अभिनेता को नहीं मिली इतनी फीस

आपको बता दें कि हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड एक फॉर्च्यून 500 कंपनी है, जो भारत सरकार की दूसरी सबसे बड़ी एकीकृत तेल शोधन और विपणन करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी है। हिंदुस्तान पेट्रोलियम को सरकार द्वारा नवरत्न श्रेणी में रखा गया है। हिंदुस्तान पेट्रोलियम मुंबई मे अपने स्वामित्व मे ल्यूब बेस ऑयल का उत्पादन करने वाली भारत की सबसे बड़ी ‍परिशोधिका का परिचालन करती है।

(इस खबर में कुछ अंश एजेंसी से लिया गया है।) 

गूगल तेज का नाम बदलकर हुआ Google Pay, लकी विजेताओं को गूगल दे रहा 1 लाख रुपए का इनाम

भूषण स्टील के साहिबाबाद संयंत्र से काम करेगी टाटा स्टील, दिल्ली में कार्यालय रखने का इरादा नहीं

 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.