भारत की साख के बारे में दृष्टिकोण नई सरकार की नीतियों पर निर्भर: मूडीज

Samachar Jagat | Friday, 24 May 2019 12:58:58 PM
Approaches to Indias credentials will depend on the policies of the new government

नई दिल्ली। रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा कि भारत की वित्तीय साख के बारे में उसका दृष्टिकोण नई सरकार की नीतियों पर निर्भर करेगा। उसने उम्मीद जताई कि देश राजकोषीय घाटे को कम करने की योजना पर निरंतर आगे बढ़ता रहेगा। मूडीज इनवेस्टर सर्विस के उपाध्यक्ष (सोवरेन रिस्क ग्रुप) विलियम फोस्टर ने कहा, भारत के आम चुनावों के नतीजे का वित्तीय साख निर्धारण पर प्रभाव अगले कुछ साल में सरकार द्बारा अपनाई गई नीतियों पर निर्भर करेगा...।

टेक्नो इंडिया ने भारत में लांच किया अपना अबतक का सबसे सस्ता तीन रियर कैमरे वाला स्मार्टफोन , जानिए फीचर

मूडीज को उम्मीद है कि नीति में राजकोषीय मजबूती पर जोर बना रहेगा। अब तक के रूझानों के अनुसार भाजपा नीत राजग पूर्ण बहुमत के साथ केंद्र में लगातार दूसरी बार सरकार बनाएगी। अमेरिकी रेटिंग एजेंसी मूडीज ने 2017 में भारत की रेटिंग 'बीएए3’ से बढ़ाकर 'बीएए2’ कर दिया। 

Huawei ने भारत में लांच किए P30 Pro और P30 Lite स्मार्टफोन , कैमरा क्वालिटी के मामले में हैं अव्वल

साथ ही परिदृश्य 'सकारात्मक’ से 'स्थिर’ कर दिया है। उसने यह भी कहा था कि सुधारों से बढ़ते कर्ज के स्तर को स्थिर रखने में मदद मिलेगी। सरकार ने फरवरी में अंतरिम बजट में राजकोषीय घाटा 2019-20 में 3.4 प्रतिशत रहने का अनुमान रखा जबकि मूल लक्ष्य 3.1 प्रतिशत था। वित्त वर्ष 2018-19 में यह 3.4 प्रतिशत रहा। -एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.