हिंदी के लेखकों को ऑडियो किताब के लिए अग्रिम रॉयल्टी का दावा

Samachar Jagat | Saturday, 15 Sep 2018 01:19:19 PM
Hindi writers claim advance royalties for audio book

नई दिल्ली। युवा हिंदी रचनाकारों को अवसर देने वाले एक प्रकाशन समूह ने अपने कुछ चर्चित लेखकों को उनकी मौजूदा किताबों के ऑडियो बुक अधिकारों के लिए बड़ी राशि अग्रिम रॉयल्टी के रूप में देने की घोषणा की है। हिंदी दिवस (14 सितंबर) की पूर्व संध्या पर हिंद युग्म प्रकाशन ने एक विज्ञप्ति में यह दावा किया और बताया कि उसने अमेजॉन की ऑडियो पुस्तक निर्माण एवं प्रकाशन कंपनी ऑडिबल के साथ अपनी किताबों को श्रव्य स्वरूप में बदलने का करार किया है। इसके तहत नवंबर 2017 तक प्रकाशित किताबों को ऑडियो (श्रव्य) रूप में बदला जाएगा।

ग्रामीण महिलाओं के तैयार कपड़ों को बड़े शोरूम तक पहुंचा रही है ऊषा इंटरनेशनल

इसी के तहत प्रकाशक ने अपने कुछ चर्चित लेखकों को उनकी मौजूदा किताबों के ऑडियो बुक अधिकारों के लिए एक बड़ी राशि अग्रिम रॉयल्टी के रूप में देने की घोषणा की है। इन लेखकों में अभिनेता मानव कौल, सत्य व्यास, दिव्य प्रकाश दुबे, निखिल सचान, अनु सिह चौधरी, किशोर चौधरी, अजीत भारती, आशीष चौधरी, अंकिता जैन और उमेश पंत जैसे युवा लेखक शामिल हैं। हिंद युग्म के संपादक शैलेश भारतवासी ने एक बयान में भरोसा जताया कि आने वाले समय में हिंदी के लेखक भी अपनी किताबों की ठीक ठाक रॉयल्टी पा सकते हैं।

भारत डब्ल्यूटीओ में सुधार को लेकर अन्य देशों के साथ मिलकर काम करेगा: प्रभु

उन्होंने कहा कि बहुत सारे हिंदी लेखकों को ई-बुक की रॉयल्टी के तौर भी लाखों रुपए मिल रहे हैं। इसके अलावा फ़िल्म इंडस्ट्री का ध्यान भी नए लेखकों की किताबों की और गया है। जिसकी वजह से किताबों के फ़िल्म निर्माण अधिकार, वेब सीरिज निर्माण अधिकार इत्यादि बिकने लगे हैं। आपको बता दें कि हिंदी दिवस पर मध्यप्रदेश सरकार ने चिकित्सा पाठ्यक्रमों की परीक्षाओं में अग्रेजी की अनिवार्यता खत्म कर हिंदी का भी विकल्प दिया है। - एजेंसी

संयुक्त राष्ट्र के मानव विकास सूचकांक में भारत 130वें स्थान पर



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.