रिजर्व बैंक ने आम लोगों को फर्जी ईमेलों के बारे में चेताया

Samachar Jagat | Thursday, 05 Jul 2018 04:50:43 PM
RBI warns about fake emails

मुंबई। रिजर्व बैंक के नाम का उपयोग कर आम लोगों को ठगने की गतिविधियों के बीच केन्द्रीय बैंक ने आम लोगों को इस तरह के जालसाजों से सचेत रहने के लिए कहा है। केन्द्रीय बैंक नियमित अंतराल पर लोगों को अगाह करता रहता है। उसने कहा है कि इस तरह की गतिविधियों में शामिल लोग आरबीआई के नाम का उपयोग करके आम जनता के साथ धोखाधड़ी करते हैं।

71 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स

ये तत्व आरबीआई के नकली लेटर हेड का उपयोग करते हुए, आरबीआई के कर्मचारी होने के नाम पर ईमेल भेजते हैं और लोगों को विदेशों से जाली प्रस्तावों / लॉटरी जीतने / विदेशी मुद्रा में सस्ते धन के प्रेषण का प्रलोभन देते हैं और उनसे मुद्रा प्रोसेसिंग शुल्क, विदेशी मुद्रा रूपांतरण शुल्क, पूर्व-भुगतान इत्यादि के रूप में धन की वसूली करते हैं। रिजर्व बैंक अपने 'जन जागरूकता अभियान' के रूप में जनता को एसएमएस भेजने, आउटडोर विज्ञापन और टेलीकास्टिंग जागरूकता फिल्मों जैसे विभिन्न तरीकों के माध्यम से फर्जी ई-मेलों पर जागरूकता फैला रहा है।

उसने कहा कि रिजर्व बैंक किसी भी व्यक्ति का खाता नहीं रखता है। उसके अधिकारियों के नाम पर धोखेबाज से सावधान रहने के लिए कहा है। रिजर्व बैंक का कोई भी व्यक्ति लॉटरी जीतने/विदेश से धन-राशि प्राप्त करने के बारे में कोई फोन नहीं करता है और न:न ही लॉटरी इत्यादि जीतने के संबंध में कोई ई-मेल भेजता है।

शीर्ष म्यूचुअल फंडों की परिसंपत्तियां 20 प्रतिशत बढ़कर हुई 23.4 लाख करोड़ रुपए

रिजर्व बैंक लॉटरी जीतने अथवा विदेश से निधि प्राप्त करने के जाली प्रस्तावों के लिए कोई एसएमएस अथवा पत्र अथवा ई-मेल नहीं भेजता है। उसने लोगों से ऐसी धोखाधड़ी के बारे में स्थानीय पुलिस अथवा साईबर क्राइम प्राधिकारी को जानकारी देने की अपील करते हुये आम लोगों को ऐसे लोगों / संस्थाओं के पत्राचार का जवाब न देने और आरबीआई के नाम से प्राप्त धोखाधड़ीपूर्ण ईमेल पर विश्वास नहीं करने की सलाह दी है।- एजेंसी

किसानों को मिला उपहार, दो लाख तक का कृषि ऋण माफ कर दिया

कच्चे तेल की अधिक कीमतें आर्थिक वृद्धि के लिए मुख्य जोखिमः मूडीज



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.