गिरते रुपए को थामने को लेकर रिजर्व बैंक के संपर्क में है वित्त मंत्रालय

Samachar Jagat | Tuesday, 11 Sep 2018 12:12:02 PM
The Finance Ministry is in touch with the Reserve Bank to stop falling rupees.

नई दिल्ली। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले लगातार गिरते रुपए को थामने के लिए बाजार हस्तक्षेप को लेकर वित्त मंत्रालय बराबर रिजर्व बैंक के साथ संपर्क बनाए हुए है। अमेरिकी डॉलर के समक्ष रुपया 72.45 रुपए प्रति डॉलर के निचले स्तर तक गिर चुका है। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। भारतीय रिजर्व बैंक गिरते रुपए को थामने के लिए बाजार में लगातार डॉलर बेच रहा है, यही वजह है कि देश का विदेशी मुद्रा भंडार जो कि अप्रैल में 426 अरब डॉलर पर था अगस्त अंत तक गिरता हुआ 400.10 अरब डॉलर रह गया।

टीवीएस ने बेची 30 लाख से अधिक अपाचे मोटरसाइकिल

अधिकारी का कहना है कि रिजर्व बैंक के पास विदेशी मुद्रा का पर्याप्त भंडार है। वित्त मंत्रालय इस मामले में सही समय पर बाजार हस्तक्षेप के लिए केन्द्रीय बैंक के साथ संपर्क बनाए हुए है। हालांकि, अधिकारी ने कहा कि रुपए में गिरावट चौतरफा नहीं है। भारतीय मुद्रा ब्रिटेन के पौंड, यूरो, चीन युआन और जापानी येन के समक्ष मजबूत हुई है। अधिकारी ने कहा कि सरकार के पास विदेशी मुद्रा जुटाने के लिए प्रवासी भारतीयों को बॉंड जारी करने का विकल्प मौजूद है लेकिन इस बारे में जरूरी विचार विमर्श के बाद ही कोई फैसला किया जाएगा।

अधिकारी ने कहा, फिलहाल घबराहट वाली कोई बात नहीं है क्योंकि ज्यादातर वैश्विक मुद्रायें डॉलर की मजबूती से प्रभावित हुई हैं। बल्कि यहां तो रुपया कई अन्य मुद्राओं के मुकाबले मजबूत हुआ है । चालू खाते का घाटा यानी कैड अप्रैल से जून तिमाही के दौरान जीडीपी के समक्ष 18 अरब डॉलर यानी 2.4 प्रतिशत पर पहुंच गया। विदेशी मुद्रा के कुल अंतर्प्रवाह और बहिप्रर्वाह के बीच के अंतर को कैड कहा जाता है। - एजेंसी 

अलीबाबा के संस्थापक जैक मा 2019 में होंगे सेवानिवृत्त, सीईओ को बनाया उत्तराधिकारी

गडकरी ने वाहन उद्योग से कहा, मानसिकता बदलो, भविष्य के बारे में सोचो



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.