ब्यावर आईटीआई ने फिर से किया राजस्थान का नाम ऊँचा, जीता ये खिताब

Samachar Jagat | Tuesday, 02 Jul 2019 07:00:21 PM
Beawar ITI Latest News

जयपुर। मन में कुछ करने का जज्बा, प्रबल इच्छाषक्ति के साथ लक्ष्य प्राप्ति के लिए इरादे मजबूत हो तो मुश्किल भरा सफर भी आसान हो जाता है इसकी मिसाल बना ब्यावर का सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) जिसने पीपीपी मॉडल में  नरेन्द्र कुमार जैन (चेयरमेन एवं औद्योगिक प्रतिनिधि) के नेतृत्व में स्कील डेवलपमेंट में देश की 1396 आईटीआई मे प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों की दशा एवं दिशा सुधारने एवं उनको सेन्टर ऑफ  एक्सीलेंस में बदलने हेतु वर्ष 2007-08 में केन्द्र सरकार ने देश की 1396 आईटीआई को चुन कर उन्हें चुने हुए सफल
उद्यमियों को सौपने की योजना बनाई ताकि जिस प्रकार उन उद्योगपतियों ने अपने अनुभव एवं कर्मठता का
उपयोग कर अपने उद्यमों का परचम देश में लहराया उसी प्रकार सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों को
भी उच्च गुणवत्ता के प्रशिक्षण, रिजल्ट एवं प्लसमेंट के सर्वोच्च केन्द्र में परिवर्तित किया जाए।

इसी योजना के अंतर्गत वर्ष 2007-08 में ब्यावर आईटीआई को एन. के. जैन जो कि मैसर्स विद्युत टेलीट्रानिक्स लि; जयपुर(राजस्थान) के प्रबन्ध निदेषक है को सरकार द्वारा चुना गया व राजस्थान
में इस हेतु फिक्की के सहयोग से प्रथम एमओयू हस्ताक्षरित किया गया।

एनके जैन जो कि राजस्थान उद्योगों में एक जाना पहचाना नाम है स्वयं 1977 में स्थापित अपने छोटे से उद्योग को शैन शैन आगे बढ़ाया और 30 साल में उनके द्वारा बनाए जाने वाले वीनस ब्रांड वायर्स व केबल ज्यादातार इलेक्ट्रॉनिक्स व टेलीकम्यूनिकेषन कंपनियों की पहली पसन्द बन गये उन्हें उद्योग रत्न,उद्योग शिरोमणि, बेस्ट एम्पलायर्स ऑफ़  द ईयर व एक्सीलेन्स इन क्वालिटी अवार्ड से नवाजा गया।

इसी दौरान उन्हें राजस्थान चैम्बर्स ऑफ़  कामर्स एण्ड इण्डस्ट्री का आनरेरी सेक्रट्री, दी एम्पलायर्स एसोसिएषन ऑफ़ राजस्थान का अध्यक्ष व यूनाईटेड काउन्सिल ऑफ़ राजस्थान इंडस्ट्रीज का
मुख्य प्रवक्ता चुना गया। एन.के.जैन के नेतृत्व में ब्यावर आईटीआई की इंस्टीट्यूट मैनेजमेंट कमेटी का गठन किया गया। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.