पीट-पीटकर मार डालने और सोशल मीडिया पर नफरत भरे संदेश फैलाने पर असम में 62 लोग गिरफ्तार

Samachar Jagat | Wednesday, 13 Jun 2018 05:24:01 AM
62 people arrested in Assam after being beaten and beaten and spreading hate messages on social media

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

गुवाहाटी। असम के कार्बी आंगलोंग जिले में दो लोगों को पीट - पीटकर मार डालने तथा सोशल मीडिया पर अफवाहें एवं नफरत फैलाने को लेकर अब तक 62 लोग गिरफ्तार किये गये हैं। 

शुक्रवार को कार्बी आंगलोंग के पंजूरी में निलोत्पल दास (29) और उसके दोस्त अभिजीत नाथ (30) को उनके वाहन से खींचकर गांववालों के एक समूह ने बच्चा चुराने के संदेह में पीट - पीटकर मार डाला था। 

स्थानीय लोगों ने अपने मोबाइल फोन से इस घटना की रिकाॄडग कर उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया। इस घटना को लेकर पूरे राज्य में प्रदर्शन जारी हैं। दो व्यक्तियों को गिरफ्तार करने के साथ ही इस मामले में अब तक 26 लोग गिरफ्तार किये जा चुके हैं। 

उनके अलावा , इस हत्या के सिलसिले में सोशल मीडिया के दुरुपयोग को लेकर भी 13 लोग गिरफ्तार किये गये हैं जिससे ऐसी गिरफ्तारियां 36 हो गयी हैं। असम के एक पुलिस प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। पुलिस ने परामर्श जारी किया है और लोगों से सोशल मीडिया पर अफवाहें नहीं फैलाने को कहा है। 

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) मुकेश अग्रवाल स्थिति पर नजर रख रहे हैं। इस बीच, असम सरकार ने अंधविश्वास और अफवाहों से होने वाली ऐसी घटनाओं को देखते हुए सभी विकास मंडलों और पंचायतों में जागरूकता कार्यक्रम शुरू करने की योजना बनाई है। 

एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को स्थानीय निकायों , महिला संगठनों और मीडियाकॢमयों के साथ मिलकर सभी स्तरों पर जागरूकता कार्यक्रम ‘ संस्कार ’ चलाने के तौर तरीके तैयार करने को कहा है। 

उन्होंने कहा , ‘‘ असम को उसके विशिष्ट सत्कार के लिए पूरे भारत में पहचाना जाता है और देशभर से आने वाले लोग राज्य में जहंा भी जाएं तो उन्हें मैत्रीपूर्ण माहौल मिलना चाहिए। ’’इस बीच , आरटीआई कार्यकर्ता और किसान नेता अखिल गोगोई ने इस घटना की सीबीआई जांच की मांग की । 

निलोत्पल के माता - पिता गोपाल चंद्र दास और राधिका दास ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की। साथ ही , उन्होंने लोगों से इस मुद्दे को राजनीतिक रंग नहीं देने की भी अपील की। - (एजेंसी)

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.