बीजेपी प्रत्याशी के नाम वापस लेने से पार्टी को झटका

Samachar Jagat | Thursday, 01 Nov 2018 01:55:04 PM
Name of BJP candidate back Party shock

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

बेंगलुरु। कर्नाटक विधान सभा की 2 सीटों और लोकसभा की 3 सीटों पर 3 नवंबर को होने वाले उप चुनाव से महज 48 घंटे पहले रामनगर विधान सभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक चंद्रशेखर ने पार्टी नेताओं पर उन्हें नजरअंदाज करने का आरोप लगाते हुए नाम वापस लेकर पार्टी को गहरा झटका दिया है।


चंंद्रशेखर ने यहां से 50 किलोमीटर दूर रामनगर में नाम वापसी का ऐलान करते हुए कहा कि वे काफी उम्मीदों के साथ बीजेपी में शामिल हुए थे और हो रहे उपचुनाव में उम्मीदवार की ओर से उम्मीदवार भी बने। लेकिन पार्टी ने मेरी जमकर उपेक्षा की है और पार्टी का कोई भी नेता मेरे लिए प्रचार करने तक नहीं आया।

उन्होंने कहा कि मैं मूल रूप से एक कांग्रेसी नेता हूं और कुछ ही हफ्तों में मुझे एहसास हुआ कि भाजपा क्या है और इस पार्टी में मेरे जैसे नेता के लिए कोई जगह नहीं है। पार्टी रामनगर जिले में आंतरिक कलह से पूरी तरह घिरी हुुई है। बीजेपी नेताओं के ­ष्टिकोण ने मुझे चौंका दिया है।

इसलिए मैं चुनाव मैदान से हट रहा हूं और इस चुनाव में मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की पत्नी जद (एस)-कांग्रेस संयुक्त गठबंधन उम्मीदवार एमएस अनीता कुमारस्वामी का समर्थन करूंगा। इस निर्वाचन क्षेत्र में जद (एस) की मजबूत स्थिति है और भाजपा का इस जिले में कोई आधार नहीं है। कांग्रेस के समर्थन के कारण मुख्यमंत्री की पत्नी की स्थिति और मजबूत हुयी है।

चंद्रशेखर को जद (एस) की उम्मीदवार अनीता कुमारस्वामी के खिलाफ कठिन संघर्ष का सामना करना पड़ रहा था। कुमारस्वामी, जिन्होंने उसी जिले में रामनगर और चन्नपटन के 2 हिस्सों से चुनाव लड़ा था, और दोनों सीटों से चुने जाने के बाद रामनगर सीट को खाली कर दिया था जिसके कारण यहां उपचुनाव कराया जा रहा है। 

गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री बने कुमारस्वामी ने कहा कि कांग्रेस या जद (एस) को दोषी ठहराए जाने के बजाय बीजेपी नेताओं को खुद को इस अपमानजनक घटना के लिए दोषी ठहराया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर को बीजेपी में शामिल होने के लिए मजबूर कर दिया और फिर उनके साथ किए गए वादे को पूरा नहीं किया गया। उन्होंने टिकट देने से पहले अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से परामर्श नहीं किया और इसी के चलते ये हालात पैदा हुए हैं।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.