ग्रामीणों के लिए खतरा बने दो तेंदुए गिरफ्त में आये

Samachar Jagat | Friday, 04 Oct 2019 01:19:02 PM
Two leopards caught as a threat to villagers

बड़वानी। मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के पानसेमल वन परिक्षेत्र में आज तडक़े दो अलग-अलग भपजरों में नर तथा मादा तेंदुए गिरफ्त में आ गये। इन्हे ग्रामीणों पर हमले के खतरे के मद्देनजर पकडा गया है। विगत दो माह में इस क्षेत्र से 4 तेंदुए पकड़े जा चुके हैं।


loading...

सेंधवा के अनुविभागीय अधिकारी वन विजय गुप्ता ने बताया कि पानसेमल वन परिक्षेत्र के अंतर्गत बायगोर रोड पर स्थित ग्राम भातकी के समीप स्थापित किए गए दो भपजरों में नर तथा मादा तेंदुआ गिरफ्त में आ गये। उन्होंने बताया कि नर तेंदुए की उम्र करीब 8 वर्ष तथा मादा तेंदुए की उम्र 4 वर्ष है।
 गुप्ता ने बताया कि दोनों तेंदुओं के पग मार्क लगातार दिखाई पड़ रहे थे। साथ ही वे ग्राम भातकी के समीप एक मकान के आस-पास रोज आ रहे थे, जिसके चलते ग्रामीणों पर हमला करने का खतरा बढ़ रहा था और इन्हें पकडऩा हो गया था। दोनों तेंदुओं को खंडवा सर्कल के अंतर्गत ओंकारेश्वर के बखतगढ़ स्थित घने जंगलों में छोड़ा जा रहा है।

गुप्ता ने बताया कि दोनों तेंदुए क्षेत्र में लगातार जानवरों का शिकार कर रहे थे, जिससे कुछ ग्रामों के ग्रामीण भचता ग्रस्त थे। इसके पूर्व अगस्त तथा सितंबर माह में पानसेमल वन परिक्षेत्र के जूनापानी व बडग़ोन ग्राम में एक किशोरी व एक महिला का शिकार करने व कुछ ग्रामीणों को घायल करने वाले दो आदमखोर तेंदुओं को गिरफ्त में लिया गया था। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.