दुष्कर्म के दर्द को बर्दाश्त नहीं कर सकी नाबालिग लडक़ी और आखिरकार इस बेरहम दुनिया को कह दिया अलविदा...

Samachar Jagat | Thursday, 11 Oct 2018 02:03:50 PM
 rape victim tribal minor girl dies in Delhi

रांची। राजधानी दिल्ली में मानव तस्करों से मुक्त कराई गई झारखंड में गोड्डा जिले के पहाडिय़ा समुदाय की दुष्कर्म पीडि़ता नाबालिग की बुधवार को राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में मौत हो गई। राज्य बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर ने बताया कि नाबालिग की बुधवार को रिम्स में मौत हो गई और पोस्टमॉर्टम के बाद उसका शव परिजनों को सौंप दिया गया।

शादी के बाद भी महिला अपने प्रेमी के साथ बना रही थी अवैध संबंध और फिर...

उन्होंने बताया है कि नाबालिग को इस वर्ष 25 सितंबर को दिल्ली में मानव तस्करों से मुक्त कराया गया था। इसके बाद उस उसके पैतृक जिला गोड्डा भेज दिया गया था। लेकिन, उसकी हालत खराब होने पर उसे 03 अक्टूबर को रिम्स में भर्ती कराया गया। आरती कुजूर ने बताया है कि नाबालिग की देखरेख एवं बेहतर इलाज के लिए रिम्स में मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया था।

शादी के बाद नहीं हो रही थी संतान तो दो देवरों ने तांत्रिक के कहने पर अपनी भाभी का किया ऐसा हाल, पढक़र उड़ जाएंगे आपके होश

बोर्ड ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि लडक़ी का रक्तचाप और पल्स रेट काफी कम था, जिससे उसकी स्थिति काफी खराब होती गई। इसके बाद बोर्ड ने स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे को पत्र लिखकर बताया गया कि नाबालिग को बेहतर इलाज के लिए और बड़े अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत है।

रिश्तों का खून: बेटे ने पहले अपने मां-बाप और फिर बहन को उतारा बेरहमी से मौत के घाट

उल्लेखनीय है कि दिल्ली में तस्करों से 16 बच्चियों को मुक्त कराने के बाद उन्हें रांची लाया गया था। मृतका के साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या करने की भी कोशिश की गई थी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.