भ्रूण लिंग परीक्षण करते हुए वाहन सहित दो दलाल गिरफ्तार

Samachar Jagat | Thursday, 07 Dec 2017 08:08:29 AM
Two brokers including vehicle were arrested while testing fetal gender

सीकर। राजस्थान के पूर्व गर्भाधान और प्रसव पूर्व निदान तकनीक (पीसीपीएनडीटी) के दल ने सीकर जिले के फतेहपुर कस्बे में अवैध सोनोग्राफी मशीन से लिंग जांच करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ कर दो दलालों को वाहन सहित गिरफ्तार किया है।

भूमि विवाद में सगे भाई की गोली मारकर हत्या

इस दौरान दो अन्य आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर सोनोग्राफी मशीन लेकर फरार हो गए। जिला पीसीपीएनडीटी समन्वयक नंदलाल सिंह पूनिया ने बताया कि दल ने अवैध सोनोग्राफी मशीन से भ्रूण लिंग जांच करने वाले दिपेन्द्र व दिनेश को वाहन सहित गिरफ्तार किया। 

प्रद्युम्न हत्याकांड : सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

इस दौरान गैर पंजीकृत सोनोग्राफी की मशीन सहित दो अन्य आरोपी दूसरी गाड़ी में फरार हो गए। उन्होंने बताया कि भूण लिंग जांच के आरोप में गिरफ्तार दिपेन्द्र एवं दिनेश ने पूछताछ में बताया कि शेखावाटी में अवैध सोनोग्राफी मशीनों से लिंग जांच करने वाला बड़ा गिरोह सक्रिय है। ये लोग कमीशन के आधार पर गर्भवती महिलाओं की लिंग जांच कर लिंग की पहचान बताने का कार्य करते है।

शराब के नशे में कलयुगी बेटे ने की मां-बाप की हत्या

उन्होंने बताया कि आरोपी दीपेन्द्र ने बताया कि दो साल से झुंझुनूं व सीकर जिले के कस्बों से गर्भवती महिलाओं को मोटरसाइकिल या कार से लाने ले का काम कर रहा है। इस काम मे गिरोह के 22 दलाल लगे है। इनका मुख्य कार्य गर्भवती महिलाओं को लिंग जांच के लिए अवैध सोनोग्राफी संचालक तक पहुचांने का है। 

युवक को पीट-पीट कर उतारा मौत के घाट

इसके लिए उन्हें गर्भवती महिला को लाने व ले जाने के लिए बतौर कमीशन करीब पांच हजार रूपये मिलता है। वह हर महीने 25 से 30 गर्भवती महिलाओं की लिंग जांच करवाता था। पूछताछ में यह भी सामने आया कि दलालों ने भी अपने एजेन्ट बना रखे थे।-एजेंसी 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.