कैंसर की ‘फर्जी’ भारतीय दवा चीन में बेचने पर बनी फिल्म

Samachar Jagat | Thursday, 05 Jul 2018 06:50:54 PM
Films made for selling 'fake' Indian medicine in China

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

बीजिंग। चीन में एक ऐसे व्यापारी की जिंदगी पर बनी फिल्म रिलीज होने के लिए तैयार है जो चार साल पहले ब्लड कैंसर के हजारों मरीजों को ‘ फर्जी ’ भारतीय दवा बेचने की कहानी पर आधारित है।  इस फिल्म ‘डाईंग टू सरवाईव’ का निर्देशन वेन मुये ने किया है और सह निर्माता निन्ग हो और शु चेंग है।

 फिल्म के विषय को लेकर इन दिनों चीन के सोशल मीडिया में जमकर चर्चा हो रही है। यह लु की कहानी पर आधारित है। लु चीन में एक तरह के ब्लड के कैंसर के मरीजों को भारत से लाकर ‘फर्जी’ दवाई बेचता है, क्योंकि ये मरीज स्विटजरलैंड की फार्मा कंपनियों द्वारा निर्मित दवा खरीदने में सक्षम नहीं थे।

मोदी सरकार का आक्रामक हाव भाव भारत-पाक गतिरोध के लिए जिम्मेदार : इमरान खान

 लु पर 2014 में नकली दवा का प्रचार करने का आरोप लगता है और अदालत में हाजिर नहीं होने पर जनवरी 2015 में गिरफ्तार किया जाता है।  पखवाड़े में एक हजार से अधिक मरीज उसकी रिहाई को लेकर याचिका देते हैं और दो हफ्ते बाद अभियोजन पक्ष अपने आरोप वापस ले लेता है।

 फिल्म के निर्देशक वेन ने बीजिंग में प्रीमियर के मौके पर कहा कि इस का अधिकांश हिस्सा लु के 2004 से 2014 के अनुभवों पर आधारित है लेकिन ‘ डाईंग टू सरवाइव ’ में कला के पहलू से कई बड़े बदलाव किए गए हैं।

 फिल्म के शीर्ष अभिनेता और सहनिर्माता शु ने बताया कि शूटिंग शुरू होने के बाद मैं पहली दफा लु से मिला। वह सामान्य व्यक्ति हैं।  लु भी सोमवार को कार्यक्रम में मौजूद थे। उन्होंने कहा कि यह ध्यान रखा जाना चाहिए कि उन्होंने कभी भी दवा का निर्यात धन बनाने के लिए नहीं किया।

'ट्रंप ने सहयोगियों को दिया था वेनेजुएला पर कब्जा करने का सुझाव'

2015 के बाद चीनी दवा बाजार में बड़ा बदलावा आया है।  लु मूल रूप से टेक्सटाइल के क्षेत्र में कारोबार करता था और 2002 में 34 साल की उम्र में ल्यूकेमिया से पीडि़त होने का पता चला था और इसका इलाज कराने पर भारी खर्च आने के कारण वह दिवालिया होने के कगार पर पहुंच गया था। 
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.