शांति के लिए क्रोध पर नियंत्रण रखे और वर्तमान में जीने के लिए सजग रहे : मुनिश्री

Samachar Jagat | Monday, 14 May 2018 12:38:30 PM
Keep control over anger for peace and stay alive for the present: Munici

अजमेर। महाअतिशयकारी ज्ञानोदय तीर्थ क्षेत्र नारेली में मुनि पुंगव सुधासागर महाराजजी ने धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जीवन में शांति पाने के लिए क्रोध पर काबू पाना सीख लो। जिसने जीवन में समझौता करना सीख लिया व संत हो गया। वर्तमान में जीने के लिए सजग और सावधान रहने की आवश्यकता है।

जिसके भाग्य में जो लिखा है उसे वही मिलेगा और परेशान होने से कुछ अतिरिक्त प्राप्त नहीं होने वाला। सर्वोच्च सत्ता ईश्वर के ही हाथ में है। यदि वह आपसे नाराज है तो दुनिया की कोई ताकत आपकी मदद नहीं कर सकती है। ईश्वर से की गई प्रार्थना का तभी उत्तर मिलता है जब हम अपनी शक्तियों को काम में लाए। 

आलस्य, प्रमाद, अकर्मण्यता व अज्ञान यह सब गुण यदि मिल जाए तो मनुष्य की दशा ऐसी हो जाती है जैसे कि किसी कागज के थैले के अन्दर तेजाब भर दिया जाए। ऐसा थैला अधिक समय तक नहीं ठहर सकेगा। ईश्वर उसकी मदद करता है जो स्वयं अपनी मदद करता है। यह जानकारी देते हुए विनीत कुमार जैन ने बताया कि सोमवार को प्रात: 7:00 बजे विघ्नहर श्री 1008 मुनि सुव्रतनाथ भगवान के अभिषेक एवं शांतिधारा तत्पश्चात् परम पूज्य पुगंव सुधा सागर जी महाराज के प्रवचन प्रात: 8:30 बजे ज्ञानोदय तीर्थ क्षेत्र नारेली स्थित प्रवचन पण्डाल में होंगे।

इसके पश्चात् 10:30 बजे मुनि श्री की आहारचर्या, 12:00 बजे सामायिक व सायं 5:30 बजे महाआरती एवं जिज्ञासा समाधान का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.