शोध : अकेलेपन से दुगुना हो जाता हैं मौत का खतरा

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 10:12:41 AM
Research: Due to Loneliness Dangers of Death

लाइफस्टाइल डेस्क। इंसान अपने अकेलेपन से न सिर्फ मानसिक रूप से परेशान रहता हैं बल्कि उसकी मौत का खतरा भी दुगुना हो जाता हैं। अकेलेपन से इंसान मानसिक और हृदय से संबंधित बिमारियों की चपेट में आ जाता हैं। यह जानकारी एक मेडिकल शोध से पता चली हैं। 

कालेपन को दूर करने में मददगार है खट्टा - मीठा फालसा

शोध के अनुसार महिला जब अकेलेपन में रहती हैं तो उनकी मौत का जोखिम दुगुना रहने की संभावना हो जाती हैं वहीँ जब पुरुष अकेलेपन में रहता हैं तो उसकी मौत का खतरा दुगुना हो जाता हैं। कोपेनहेगन विश्वविद्यालय अस्पताल के डॉक्टरेट की छात्र एनी विनगार्ड क्रिस्टेनसेन ने बताया कि अकेलेपन से हृदय संबंधी बीमारी, खराब मानसिक स्वास्थ्य और कम गुणवत्ता वाले जीवन की की ओर अग्रसर करता हैं। 

भारत में 'सेकंड हैंड स्मोकिंग' की जद में आने वाले लोगों की तादाद घटी: सर्वेक्षण

शोध के अनुसार में शोध पता लगाया गया कि खराब सामाजिक नेटवर्क 13,463 मरीजों के ख़राब जीवन से संबंधित हैं। इन मरीजों को इस्कैमिक दिल का रोग, एरिथिमिया, हर्ट फेल्योर व हर्ट वाल्व जैसी बीमारियां हैं। इस शोध की जानकारी वार्षिक नर्सिंग कांग्रेस यूरोहर्टकेयर 2018 में प्रस्तुत की गई थी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.