गर्मियों में लू से बचने के लिए करे ये उपाय

Samachar Jagat | Thursday, 09 May 2019 04:47:13 PM
To avoid Lu in the summer, these measures

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

लाइफस्टाइल डेस्क। गर्मीयों के मौसम में तेज धूप के कारण पसीना ज्यादा आता है। इससे वयस्कों के शरीर में पानी की जरूरत करीब 500 मिलीलीटर बढ़ जाती है। इसके अलावा इस मौसम में शरीर के साथ—साथ सेहत का भी ज्यादा ध्यान रखना पडता है। क्योंकि यदि थोडी सी भी लापरवाही की तो आप बीमार हो सकते है। तो वहीं इस मौसम में लू लगना एक आम बात है। इसके अलावा इस मौसम में ऐंठन, थकावट और हीट स्ट्रोक होना भी आम बात है। 

दरअसल, इस मौसम में अत्यधिक पसीना निकलने से, मूत्र और लार के रूप में तरल पदार्थ तथा इलेक्ट्रोलाइट्स का प्राकृतिक नुकसान होता है। जिससे की डिहाइड्रेशन और इलेक्ट्रोलाइट्स का तीव्र असंतुलन हो सकता है। 

गर्मी के मौसम में ज्यादा समय तक धूप में रहने, शारीरिक गतिविधि, उपवास, तीव्र आहार, कुछ दवााअें और बीमारी व संक्रमण के कारण निर्जलीकरण कहीं भी और कभी भी हो सकता है। इनके लक्षणों में आपको थकान, चक्कर आना, सिरदर्द, गहरे पीले रंग का पेशाब, शुष्क मुंह और चिडचिडापन आदि होने लगता है। 

गर्मी के मौसम में शरीर को हाईड्रेटेड रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए। एचसीएफआई के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल के अनुसार गर्मी के मौसम में ज्यादा पसीना आने से वयस्कों में पानी की आवश्यकता 500 मिलीलीटर तक बढ़ जाती है। यह मौसम टाइफाइड, पीलिया और दस्त भी है। इसके कुछ कारणों में पर्याप्त मात्रा में पानी न पीना और खराब भोजन, पेयजल व हाथों की स्वच्छता न रखना शामिल है।

शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है मशरूम, इन बीमारियों में सेवन करने से होता है लाभ

यदि आप भी चाहते है गर्मियों में दमकती स्किन तो अपनाएं ये आसान टिप्स

loading...


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
loading...


Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.