12 अप्रैल : बस एक क्लिक में पढ़िए, दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Friday, 12 Apr 2019 03:56:55 PM
12 April top 10 news

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

CBI ने न्यायालय को बताया: मुलायम सिंह और अखिलेश के खिलाफ प्रारंभिक जांच 2013 में बंद हो गई थी

CBI told the court: Initial investigation against Mulayam Singh and Akhilesh was closed in 2013

Loading...

नई दिल्ली। केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने उच्चतम न्यायालय को शुक्रवार को बताया कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और उनके पुत्र अखिलेश यादव के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में प्रारंभिक जांच 2013 में बंद कर दी गई थी। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने जांच ब्यूरो के इस कथन का संज्ञान लेते हुए उसे कांग्रेस कार्यकर्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी की अर्जी पर इस मामले में चार सप्ताह के भीतर नया जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।

मुलायम सिंह यादव ने कहा था कि उनके और उनके परिवार के खिलाफ 2005 में याचिका दायर की गई थी और सीबीआई तथा आय कर अधिकारियों को उनके खिलाफ कुछ भी अनुचित नहीं मिला। सपा सुप्रीमो ने शीर्ष अदालत में दाखिल अपने हलफनामे में आरोप लगाया कि कांग्रेस कार्यकर्ता विश्वनाथ चतुर्वेदी लोकसभा चुनाव के दौरान उनके परिवार के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के एक पुराने मामले को उठाकर उनकी छवि खराब करना चाहते हैं।

शीर्ष कोर्ट ने 25 मार्च को मुलायम सिंह यादव को नोटिस जारी किया था। इसी के जवाब में सपा नेता ने यह हलफनामा दाखिल किया है। इसमें उन्होंने कहा कि चतुर्वेदी ने 2019 के चुनाव के दौरान राजनीतिक लाभ प्राप्त करने के लिये दुर्भावनापूर्ण मंशा से ही यह आवेदन दायर किया है।

चतुर्वेदी ने इस आवेदन में जांच ब्यूरो को सपा नेता मुलायम सिंह और उनके दोनों बेटों अखिलेश और प्रतीक के खिलाफ आरोपों की जांच की प्रगति रिपोर्ट पेश करने का निर्देश देने का अनुरोध किया था। शीर्ष अदालत ने चतुर्वेदी की याचिका पर एक मार्च 2007 को केन्द्रीय जांच ब्यूरो को मुलायम सिंह यादव और उनके परिजन के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में प्रारंभिक जांच करने का निर्देश दिया था।

न्यायालय ने इस फैसले पर पुनर्विचार के लिए मुलायम सिंह और उनके बेटों की पुनर्विचार याचिका 2012 में खारिज कर दी थी और जांच ब्यूरो को उनके खिलाफ अपनी जांच जारी रखने का आदेश दिया था। न्यायालय ने अखिलेश यादव की पत्नी डिपल को इस जांच के दायरे से बाहर कर दिया था। 

पूर्व सैनिकों का राष्ट्रपति को पत्र ,राजनीतिक फायदे के लिए सशस्त्र सेनाओं के इस्तेमाल का विरोध किया

Letters to President of ex-soldiers, opposed use of armed forces for political advantage

नई दिल्ली। सेना के आठ पूर्व प्रमुखों और 148 अन्य पूर्व सैनिकों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर सशस्त्र सेनाओं का राजनीतिक उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किए जाने पर आक्रोश जताया। पत्र पर जिन लोगों के हस्ताक्षर हैं उनमें पूर्व सेना प्रमुख जनरल (सेवानिवृत्त) एसएफ रोड्रिंग्ज, जनरल (सेवानिवृत्त) शंकर रॉयचौधरी और जनरल (सेवानिवृत्त) दीपक कपूर, भारतीय वायु सेना के पूर्व प्रमुख एयर चीफ मार्शल (सेवानिवृत्त) एनसी सूरी शामिल हैं।

3 पूर्व नौसेना प्रमुखों एडमिरल (सेवानिवृत्त) एल रामदास, एडमिरल (सेवानिवृत्त) अरुण प्रकाश, एडमिरल (सेवानिवृत्त) मेहता और एडमिरल (सेवानिवृत्त) विष्णु भागवत ने भी पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं। पत्र बृहस्पतिवार को राष्ट्रपति के पास भेजा गया। पूर्व सैनिकों ने लिखा, महोदय हम नेताओं की असामान्य और पूरी तरह से अस्वीकृत प्रक्रिया का जिक्र कर रहे हैं जिसमें वह सीमा पार हमलों जैसे सैन्य अभियानों का श्रेय ले रहे हैं और यहां तक कि सशस्त्र सेनाओं को मोदी जी की सेना बताने का दावा तक कर रहे हैं।

पूर्व सैनिकों ने कहा कि यह चिता और सेवारत तथा सेवानिवृत्त सैनिकों के बीच असंतोष का मामला है कि सशस्त्र सेनाओं का इस्तेमाल राजनीतिक एजेंडा चलाने के लिए किया जा रहा है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही में एक चुनावी रैली में सशस्त्र सेनाओं को मोदीजी की सेना बताया जिसपर विपक्षी दलों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। निर्वाचन आयोग ने भी टिप्पणियों पर कड़ी आपत्ति जताई। पत्र में पूर्व सैनिकों ने चुनाव प्रचार अभियानों में भारतीय वायु सेना के पायलट अभिनंदन वर्धमान और अन्य सैनिकों की तस्वीरों के इस्तेमाल पर भी नाखुशी जताई।

राहुल गांधी ने लगाया ये आरोप, कहा-मोदी अपने 15 दोस्तों के लिए चलाते हैं सरकार

Rahul Gandhi put these allegations

कृष्णागिरि (तमिलनाडु)। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुये आरोप लगाया कि उन्होंने अपने 15 दोस्तों के लिए सरकार चलाई है और वे आश्चर्यचकित हैं कि बैंक का भारी कर्ज चुकाने में नाकाम रहे विजय माल्या जैसे लोग अभी तक जेल में नहीं हैं।

कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि नीरव मोदी और विजय माल्या जैसे लोग बैंकों से कर्ज़ा लेने के बाद उसे लौटने में असफल रहे और देश छोड़कर फ़रार हो गए। उन्होंने कहा कि कोई एक भी जेल नहीं गया। गांधी ने कहा कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो, कोई किसान इसलिए जेल में नहीं डाला जायेगा कि उसने कर्ज़ा नहीं चुकाया।

यह ठीक नहीं है कि धनी लोग तो जेल न जाएं लेकिन उसी अपराध के लिए किसान जेल चला जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने नीरव मोदी को 35 हजार करोड़ रुपये, मेहुल चोकसी को 35 हजार करोड़ रुपये और विजय माल्या को दस हजार करोड़ रुपए दिए। उन्होंने कहा कि बीते पांच साल में मोदी ने 15 लोगों के लिए सरकार चलाई है और आप उनके नाम जानते हैं।

उन्होंने यहां आयोजित एक चुनावी रैली में कहा कि ये हैं अनिल अंबानी, मेहुल चोकसी, नीरव मोदी और ये मोदी के मित्र हैं। पार्टी की न्यूनतम आय योजना (न्याय) का जिक्र करते हुये कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि न्याय लोगों की खरीद क्षमता में इजाफा करेगा और प्रतिफल के रूप में तमिलनाडु में कारखाने चलेंगे और पूरी अर्थव्यवस्था आगे जाएगी।

उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के कपड़ा और रेशम केंद्र तिरूपुर और कांचीपुरम में दोबारा जान आ जाएगी और इससे युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी और सहयोगी दल कभी भी इस बात की अनुमति नहीं देगें कि तमिलनाडु के लोगों पर नागपुर (आरएसएस) का शासन चले। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन राज्य के अगले मुख्यमंत्री होंगे। 

पेंटागन ने भारत के एसैट परीक्षण का किया बचाव, कहा-देश अंतरिक्ष में 'खतरों’ से चिंतित

Pentagon defends India ASAT test

वाशिंगटन। पेंटागन ने उपग्रह रोधी मिसाइल परीक्षण क्षमताएं हासिल करने के लिए भारत का बचाव करते हुए कहा कि भारत अंतरिक्ष में पेश आ रहे खतरों से चिंतित है। गौरतलब है कि भारत ने 27 मार्च को जमीन से अंतरिक्ष में मार करने वाली मिसाइल से अपने एक उपग्रह को मार गिराने के साथ ही ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल कर ली थी।

इस परीक्षण के साथ ही अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत एसैट क्षमताओं वाला चौथा देश बन गया है। अमेरिकी कूटनीतिक कमान के कमांडर जनरल जॉन ई हीतेन ने बृहस्पतिवार को सीनेट की शक्तिशाली सशस्त्र सेवा समिति से कहा कि भारत के एसैट से पहली सीख यह सवाल है कि उन्होंने ऐसा क्यों किया और मुझे लगता है कि उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वे अंतरिक्ष से अपने देश के समक्ष पेश आ रहे खतरों को लेकर चिंतित हैं।

उन्होंने भारत के इस उपग्रह रोधी मिसाइल परीक्षण की जरुरत और इससे अंतरिक्ष में फैले मलबे पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि इसलिए उन्हें लगता है कि उनके पास अंतरिक्ष में अपना बचाव करने की क्षमता होनी चाहिए। नासा ने भारत द्बारा अपने ही एक उपग्रह को मार गिराए जाने को भयानक बताते हुए कहा था कि इससे अंतरिक्ष की कक्षा में  उपग्रह के करीब 400 टुकड़े फैल गए जिससे अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) को खतरा है।

फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर-2' का ट्रेलर हुआ लांच, तारा सुतारिया संग लिप लॉक करते नजर आए टाइगर श्रॉफ

The movie 'Student of the Year 2' trailer launched,

एंटरटेनमेंट डेस्क। फिल्म निर्माता करण जौहर की फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर-2' का ट्रेलर रिलीज हो गया है। इस फिल्म से दो एक्ट्रेस अनन्या पांडे और तारा सुतारिया बॉलीवुड इंडस्ट्री में डेब्यू कर रही है। इस ट्रेलर में दोनों एक्ट्रेस बेहद ग्लैमर अंदाज में नजर आ रही है। तो वहीं टाइगर श्रॉफ एकदम रफ एंड टफ लुक वाले स्टूडेंट में नजर आ रहे है। इस ट्रेलर में टाइगर एक के बाद एक स्टंट करते हुए नजर आ रहे है। 

इस ट्रेलर में एक जगह टाइगर श्रॉफ और तारा सुतारिया किस करते हुए नजर आ रहे हे। तो वहीं दूसरे ही पल में वो अनन्या संग भी रोमांस करते हुए दिख रहे है। इस ट्रेलर में कॉलेज लाइफ मस्ती, कॉम्पटीशन और दोस्ती वाले इलिमेंट्स के भरा हुआ है। तो वहीं ट्रेलर को फैंस के द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है। 

आपको बता दें कि इस फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है। इस बात की जानकारी अनन्या पांडे ने अपने सोशल मीडिया से माध्यम से दी थी। उन्होंने बताया कि पिछले साल 9 अप्रैल 2018 को फिल्म की शूटिंग शुरू की थी। शूटिंग शुरू करने से अब तक का हर दिन बहुत अच्छा रहा है। अब फिल्म रिलीज होने में केवल एक महीना बाकी है।

तो वहीं इस फिल्म को पुनीत मल्होत्रा डायरेक्ट कर रहे है। इसका धर्मा प्रोडक्शन और फॉक्स स्टार स्टूडियोज ने मिलकर बनाया है। यह फिल्म 10 मई 2019 को रिलीज होगी। आपको बता दें कि ट्रेलर से एक दिन पहले ही अनन्या पांडे और तारा सुतारिया का पोस्टर रिलीज किया गया था। करण जौहर ने सोशल मीडिया पर इन दोनों स्टार का पोस्टर शेयर किया था। 

करीना कपूर है दिलजीत दोसांझ की नई क्रश

Kareena Kapoor's new Crush of Diljeet Dosanjh

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता और गायक दिलजीत दोसांझ की नयी क्रश करीना कपूर बन गयी है। पंजाबी फिल्मों के सुपरस्टार दिलजीत दोसांझ ने फिल्म उड़ता पंजाब से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। फिल्म में करीना कपूर ने भी काम किया था। अब दिलजीत, करीना के साथ गुड न्यूज में काम कर रहे हैं। ‘गुड न्यूज’ में करीना और दिलजीत के अलावा अक्षय कुमार और कियारा आडवाणी भी हैं।

दिलजीत ने कायली जेनर को लेकर अपना क्रश दुनिया के सामने जताया था। दिलजीत की नई क्रश करीना कपूर बनी गयी हैं। उन्होंने बताया कि करीना उनके लिए काफी स्पेशल हैं क्योंकि उनके साथ फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ से उन्होंने बॉलिवुड डेब्यू किया था। कायली और करीना के लिए अपना क्रश जता चुके दिलजीत ने हाल ही में अपने सिंगल सॉन्ग की रिलीज को लेकर अनाउंसमेंट कर चुके हैं, जिसके टाइटल ने खूब सुर्खियां बटोरीं। दिलजीत ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करके बताया कि उनके इस नए सॉन्ग का टाइटल है कायली प्लस करीना और इसके साथ ही उन्होंने यह भी लिखा था, ‘ये गाना नहीं जज्बात हैं।’ 

सिंगापुर ओपन : सिंधू सेमीफाइनल में, साइना बाहर

Singapore Open: Sindhu in semifinals, Saina out

सिंगापुर। पी वी सिंधू एक करीबी मुकाबला जीतकर सिंगापुर ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंच गई जबकि साइना नेहवाल क्वार्टर फाइनल में सीधे गेमों में हार गई। रियो ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधू ने दुनिया की 18वें नंबर की खिलाड़ी चीन की केइ यानयान को 21 . 13, 17 . 21, 21 . 14 से हराया। अब उसका सामना पूर्व विश्व चैम्पियन नोजोमी ओकुहारा से होगा। यह इस सत्र में सिंधू का दूसरा सेमीफाइनल है जो इंडिया ओपन में अंतिम चार में पहुंची थी।

दूसरी वरीयता प्राप्त जापान की ओकुहारा ने छठी वरीयता प्राप्त साइना को 21 . 8, 21 . 13 से हराया। सिंधू ने पहला गेम जीता लेकिन चीनी खिलाड़ी ने दमदार वापसी करके दूसरे गेम में 11 . 6 की बढत बनाई। सिंधू ने अंक जुटाकर स्कोर 15 . 16 कर दिया। केइ ने हालांकि यह गेम जीतकर मैच को निर्णायक गेम तक खींचा। तीसरे गेम में सिंधू ने बढत बनाई और कायम रखी। 

दूसरी ओर पिछले तीन मैचों में ओकुहारा को हराने वाली साइना का मैच एकतरफा रहा। ओकुहारा ने 9 . 0 की बढत बना ली और साइना इस दबाव से निकल ही नहीं सकी। दूसरे गेम में साइना ने 4 . 0 की बढत बनाई लेकिन ओकुहारा ने 6 . 6 से वापसी की और इसके बाद साइना को बढत बनाने का मौका नहीं दिया।

IPL 2019: अंपायर के फैसले पर गुस्सा हुए 'कैप्टन कूल', चुकानी पड़ी यह बड़ी कीमत

IPL 2019: 'Captain Cool' angry at the umpire's decision, this big price paid

स्पोटर्स डेस्क। आईपीएल 2019 में गुरुवार को चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच मैच खेला गया। चेन्नई सुपरकिंग्स भले ही यह मैच जीत गई हो। लेकिन उनके कप्तान एमएस धोनी पर मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगा है। दरअसल, इस मैच में चेन्नई को आखिरी ओवर में जीत के लिए 18 रन की जरूरत थी। इस दौरान धोनी को मैदान पर ही अंपायर से एक गेंद को लेकर तकरार करते हुए देखा गया। 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सीएसके के कप्तान धोनी पर उनकी मैच फीस का पचास प्रतिशत जुर्माना लगा है। यह जुर्माना आईपीएल की आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया है। तो वहीं जानकारी के अनुसार धोनी ने आईपीएल कोड ऑफ कंडक्ट के लेवल 2 ऑफेंस 2.20 का अपराध स्वीकार कर लिया है।

आपको बता दें कि यह घटना उस समय की है जब चेन्नई को जीत के लिए आखिरी ओवर में 18 रन की जरुरत थी। इसके बाद बेन स्टोक्स ने चेन्नई के बल्लेबाज मिशेल सैंटनर को एक बाउंसर फेंकी, जो कि कमर से ऊपर थी। तभी अंपायर उल्हास इस गेंद को नो बॉल देने के लिए आगे बढ़ रहे थे तो स्क्वेयर लेग पर खडे अंपायर ब्रूस ओक्सनफोर्ड ने बताया कि यह वैध डिलीवरी है। 

इसके बाद सैंटनर और रविंद्र जडेजा अंपायरों से बहस करने लग गए। इस बात से परेशान धोनी भी डगआउट में खेड़े थे। वह मैदान पर पहुंचे और अंपायरों से बहस करने लग गए। लेकिन अंपायर अपने फैसले पर खडे रहे। इस मैच में अंपायरों से बहस करने के मामले में धोनी पर जुर्माना लगाया गया है। 

यात्रियों की असुविधा कम करने के लिए 16 बोइंग 737-800 एनजी विमान पट्टे पर लेंगे: स्पाइसजेट

To reduce the discomfort of passengers, 16 Boeing 737-800 NG will lease the aircraft: SpiceJet

नई दिल्ली। हवाई सेवा प्रदाता स्पाइसजेट अपने बेड़े में 16 बोइंग 737-800 एनजी विमानों को शामिल करेगी। उसने उड़ानें रद्द होने की समस्या को कम करने और अंतरराष्ट्रीय एवं घरेलू स्तर पर अपनी मौजूदगी को बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया है। सभी विमान ड्राई लीज (बिना चालक दल के विमान पट्टे पर लेने की व्यवस्था) के तहत लिए जाएंगे।

स्पाइसजेट ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की। इस व्यवस्था के तहत , पट्टे पर विमान देने वाली कंपनी बिना चालक दल के किसी एयरलाइन को विमान किराए पर देती है जबकि ' वेट लीज ' के तहत पूरे चालक दल के साथ विमान पट्टे पर दिया जाता है। एयरलाइन ने कहा कि स्पाइसजेट बिना चालक दल के विमान किराए पर लेने की व्यवस्था के तहत अपने बेड़े में 16 बोइंग 737-800 एनजी विमान शामिल करेगी।

विमानों के आयात के लिए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) के पास अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) के लिए आवेदन किया गया है। कंपनी ने कहा कि नियामकीय मंजूरी मिलने के बाद, अगले दस दिन में स्पाइसजेट के बेड़े में विमान शामिल होने लगेंगे। स्पाइसजेट ने कहा कि इससे न सिर्फ उड़ानों के रद्द होने की समस्या को दूर किया जा सकेगा बल्कि हमें इससे अंतरराष्ट्रीय और घरेलू स्तर पर अपनी मौजूदगी बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।

कंपनी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने कहा कि यह बोइंग 737 एस की पहली लॉट है , जिसे एयरलाइन अपने बेड़े में शामिल कर रही है। उन्होंने कहा कि विमानन क्षमता में अचानक गिरावट से विमानन क्षेत्र में चुनौतीपूर्ण माहौल बना गया है। स्पाइसजेट क्षमता को बढ़ाने और यात्रियों को होने वाली असुविधा को कम करने के लिए सरकारी अधिकारियों के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

स्पाइसजेट की ओर से यह घोषणा ऐसे समय की गई है जब उड़ानों की संख्या में तेज गिरावट के चलते हवाई सफर के किराए में वृद्धि हो रही है। वित्तीय संकट में फंसी जेट एयरवेज के बेड़े के करीब 90 प्रतिशत विमान परिचालन से बाहर होने के कारण उड़ान रद्द होने की समस्या खड़ी हुई है।

किराये का भुगतान नहीं कर पाने की वजह से जेट एयरवेज विमान खड़े करने के लिए मजबूर होना पड़ा है। इसके अलावा , इथियोपियाई एयरलाइन विमान हादसे के बाद सुरक्षा कारणों से स्पाइसजेट को अपने 12 बोइंग 737 मैक्स विमानों को परिचालन से बाहर करना पड़ा। 10 मार्च को हुए इस विमान हादसे में चार भारतीयों समेत 157 लोगों की जान गई थी। उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते डीजीसीए ने उड़ानों की संख्या बढ़ाने के लिए एयरलाइंस से बुधवार तक मध्यम अवधि की योजना लाने का अनुरोध किया था।

160 अंक की वृद्धि के साथ 38,767 के स्तर पर बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes at 38767 level with 160 points up

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन कारोबार की शुरूआत ​बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त के साथ ही हरे निशान पर बंद हुआ। बढ़त के इस माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 160.10 अंक यानि 0.41 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,767.11 के स्तर पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के पचास शेयरों वाले निफ्टी में भी कारोबार की समाप्ति पर बढ़त देखने को मिली और ये 46.75 अंक यानि 0.40 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,643.45 के स्तर पर बंद हुआ।

गौरतलब है कि कल के कारोबार के दौरान शेयर बाजार बढ़त के साथ हरे निशान पर खुला और हरे निशान पर ही बंद हुआ। कारोबार की शुरूआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( बीएसई ) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 32.25 अंक यानि 0.084 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,617.60 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 21.66 अंक यानि 0.056 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 38,607.01 के स्तर पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ( एनएसई ) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी कारोबार की शुरूआत में 10.25 अंक यानि 0.088 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,594.55 के स्तर पर खुला और कारोबार की समाप्ति पर ये 12.40 अंक यानि 0.11 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 11,596.70 के स्तर पर बंद हुआ।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.