15 जूनः एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Friday, 15 Jun 2018 04:43:51 PM
15 june latest top ten news

केजरीवाल ने पीएम मोदी से फिर की अपील, आलोचकों पर बरसे

Kejriwal again appeals to PM Modi

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री को शुक्रवार को फिर पत्र लिखकर प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की ‘हड़ताल’ खत्म करने में उनकी दखल की मांग की। इसके साथ ही आलोचकों पर बरसते हुए उन्होंने कहा कि यह धरना ‘किसी निजी लाभ’ के लिए नहीं बल्कि दिल्ली की जनता की बेहतरी के लिए है।

केजरीवाल ने शुक्रवार को धरने के पांचवे दिन एक वीडियो संदेश में  बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि नौकरशाहों की हड़ताल आप सरकार के कामकाज में  ‘‘बाधक’’ बन रही है। केजरीवाल और उनके मंत्री यहां उपराज्यपाल कार्यालय में धरने पर बैठे हैं। उन्होंने कहा कि मैंने उपराज्यपाल अनिल बैजल से कहा और (उपमुख्यमंत्री) मनीष सिसौदिया ने उन्हें (उपराज्यपाल को) कल पत्र लिखा।

हमने उन्हें वाट्सऐप पर मैसेज भी भेजे हैं। लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया। हमने प्रधानमंत्री को जो चिट्ठी लिखी , उसका भी जवाब नहीं आया। इसलिए आज फिर से प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखी। केजरीवाल ने नया पत्र रविवार को नीति आयोग की बैठक में शामिल होने के लिए मिले निमंत्रण के जवाब में लिखा है।

केजरीवाल ने कहा कि मैंने प्रधानमंत्री से पूछा है कि अगर उनकी बैठकों में अधिकारी नहीं आयें तो क्या वे एक दिन भी सरकार चला पाएंगे ? तो फिर आपने दिल्ली में अधिकारियों के हड़ताल की इजाजत क्यों दी। दिल्ली के लोगों को परेशान करना अच्छा नहीं है। केजरीवाल ने कल मोदी को पत्र लिखकर इस हड़ताल को खत्म करने में उनकी दखल की मांग की थी।

उन्होंने दावा किया कि उपराज्यपाल अनिल बैजल इस गतिरोध को दूर करने के लिए कुछ नहीं कर रहे हैं। डॉक्टरों की एक टीम कल उपमुख्यमंत्री सिसौदिया एवं स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के स्वास्थ्य की जांच के लिए उपराज्यपाल कार्यालय पहुंची थी। अपनी मांगों को लेकर दबाव डालने के लिए यह दोनों अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं। केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने मोदी को नया पत्र लिखा है और अपनी मांगें दोहरायी हैं।

आप सरकार की मांग है कि उपराज्यपाल आईएएस अधिकारियों को अपनी ‘हड़ताल’ खत्म करने का निर्देश दें और काम में रुकावट डालने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। वे यह भी चाहते हैं कि उपराज्यपाल घर-घर राशन पहुंचाने के प्रस्ताव को मंजूरी दें। उन्होंने कहा कि‘ मैंने उनसे (प्रधानमंत्री से) फिर अनुरोध किया है कि वह इस संबंध में कुछ करें। इस हड़ताल के लिए इजाजत देना ठीक नहीं है। इसलिए रविवार को मैं प्रधानमंत्री आवास जाऊंगा।

दिल्ली के कई लोग भी उनके आवास जायेंगे और इस हड़ताल को खत्म करने की उनसे अपील करेंगे। केजरीवाल ने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री यह सुनिश्चित करेंगे कि हड़ताल  खत्म हो। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम घर - घर जाएंगे। हमारे कार्यकर्ता शहर के 10 लाख घरों में जाएंगे और एक पत्र पर दिल्ली सरकार के कामकाज में रुकावट डालने तथा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मुद्दे पर उनका हस्ताक्षर जुटाएंगे। यह 10 लाख परिवार फिर पूर्ण राज्य के दर्जे और आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के खिलाफ आंदोलन करेंगे। 

मारा गया पाकिस्तानी तालिबान सरगना फजलुल्लाह, अमेरिकी ड्रोन हमले का बना निशाना 

Pakistani Taliban Fazlullah killed

वाशिंगटन/इस्लामाबाद। अफगानिस्तान के पूर्वी कुनार प्रांत में अमेरिका के ड्रोन हमले में पाकिस्तानी तालिबान का प्रमुख मौलाना फजलुल्लाह मारा गया। मीडिया में शुक्रवार को आई खबरों में यह दावा किया गया है। अमेरिकी सेना ने गुरुवार को कहा कि उसने अफगानिस्तान में एक बड़े आतंकवादी को निशाना बनाते हुए हमला किया।

उसने आतंकवादी की पहचान नहीं बताई। पाकिस्तानी अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने सूत्रों का हवाला देते हुए कहा कि दंगम जिले के नुर गुल काले गांव में हुए ड्रोन हमले में फजलुल्लाह और तहरीक-ए-तालिबान के 4 अन्य कमांडर मारे गए। वॉयस ऑफ अमेरिका की खबर में कहा गया है कि स्थानीय लोगों की अपुष्ट रिपोर्टों के अनुसार फजलुल्लाह मारा गया है। पेंटागन के अधिकारियों ने इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि हमला सफल रहा या नहीं।

खबर में एक सूत्र के हवाले से कहा गया है कि जब अमेरिकी ड्रोन ने हमला किया तो फजलुल्लाह और उसके कमांडर इफ्तार पार्टी कर रहे थे। बहरहाल, टीटीपी ने ड्रोन हमले में अपने प्रमुख की मौत की पुष्टि नहीं की है। फजलुल्लाह ने 2013 में इस संगठन की कमान संभालने के बाद से अमेरिका और पाकिस्तान के खिलाफ कई हाई प्रोफाइल हमले किए हैं जिनमें दिसंबर 2014 में पेशावर में आर्मी पब्लिक स्कूल पर हमला भी शामिल है।

इस हमले में 130 बच्चों सहित 151 लोग मारे गए थे। अमेरिका ने यह भी कहा कि फजलुल्ला ने 2012 में मलाला यूसुफजई की हत्या का भी फरमान दिया था। अमेरिका ने यह हमला तब किया है जब अफगान तालिबान और अफगान सुरक्षा बलों के बीच रमजान के पाक महीने के खत्म होने तक संघर्षविराम की सहमति बनी हुई है। गौरतलब है कि अमेरिका ने फजलुल्लाह को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया था और उस पर 50 लाख डॉलर का इनाम था।

नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम को पड़ा दिल का दौरा, हालत गंभीर

Nawaz Sharif wife Kulasum suffered heart attack

लंदन/इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज को दिल का दौरा पडऩे से उनकी हालत और खराब हो गई, जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है। उनके परिवार ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। ब्रिटेन में गले के कैंसर की सर्जरी के बाद कुलसुम का उपचार चल रहा है।

गत साल कुलसुम (68) को गले का कैंसर होने का पता चला था जिसके बाद लिंफ नोड को हटाने के लिए उनकी कई सर्जरी की गई थी। अप्रैल में उनकी मेडिकल रिपोर्ट से पता चला था कि गले का कैंसर पूरे शरीर में फैलने की वजह सेा उनकी हालत और नाजुक हो गई है। नवाज की बेटी मरियम नवाज ने बताया कि कल देर रात कुलसुम की हालत और खराब होने के बाद उन्हें लंदन के अस्पताल की इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) में रखा गया। मरियम ने ट्वीट किया , ‘‘ हम विमान में थे जब अम्मी को अचानक दिल का दौरा पड़ा।

वह आईसीयू में हैं और तब से ही वेंटिलेटर पर हैं। अपने पिता के साथ लंदन पहुंची मरियम ने शुभचिंतकों से अपनी मां के लिए दुआएं करने का अनुरोध किया। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर के अनुसार कुलसुम को बुधवार को फिर से अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां उनकी स्थिति बिगड़ गई और रात में ही उन्हें तत्काल आपात इकाई में ले जाया गया।

तब से उन्हें होश नहीं आया है। कल दिल का दौरा पडऩे के बाद वह बेहोश हो गई थीं और उन्हें आईसीयू में ले जाना पड़ा। तब से वह इंटेंसिव केयर में हैं। नवाज के बेटे हुसैन नवाज ने भी राष्ट्र से अपील की कि वह उनकी मां के लिए दुआएं करें। नवाज के भाई शहबाज शरीफ ने जनता से अनुरोध किया कि कुलसुम की सेहत में तेजी से सुधार के लिए वे उनके साथ प्रार्थना करें।

उन्होंने ट्वीट किया , ‘‘ रमजान का पवित्र महीना समाप्त होने जा रहा है, मैं अपने हमवतनों से अपील करता हूं कि उनकी सेहत में तेजी से सुधार के लिए वे मेरे साथ प्रार्थना करें। प्रार्थना की शक्ति सबसे बड़ी होती है। नवाज और उनकी बेटी मरियम कल कुलसुम से मिलने के लिए लंदन रवाना हो गए थे। नवाज के खिलाफ जुलाई से मुकदमा चल रहा है जिसके कारण हाल के हफ्तों में वह लंदन नहीं जा सके थे। 

अमेरिका लगाएगा चीनी सामानों के आयात पर 50 अरब डॉलर शुल्क 

US to impose $ 50 billion on imports of Chinese goods

वाशिंगटन। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने आर्थिक हितों को सुरक्षित रखने के लिए चीन से आने वाले सामानों के आयात पर 50 अरब डॉलर के शुल्क की मंजूरी प्रदान कर दी है।अमेरिका के व्यापार मंत्री द्वारा इस संबंध में औपचारिक घोषणा किए जाने का अनुमान है। आने वाले सप्ताह में इसे संघीय लेखा-जोखा में भी अधिसूचित किया जाना है। ऐसी आशंका है कि चीन भी इस पर जवाबी कदम उठाएगा।

ट्रंप ने वाणिज्य मंत्री विल्बर रॉस, वित्त मंत्री स्टीवन नुचिन और व्यापार मंत्री रॉबर्ट लाइटहाइजर के साथ गुरुवार को 90 मिनट की बैठक के बाद इसे मंजूरी दी है। बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रतिनिधि भी मौजूद थे। निर्णय के बाद कांग्रेस की सदस्य रोजा डीलॉरो ने कहा कि इस शुल्क को अमेरिका द्वारा चीन जैसे गैरजिम्मेदार देशों को जवाबदेह बनाने और चीन की सरकार को व्यापार का अधिक अनुकूल संतुलन तय करने के लिए बातचीत की मेज तक लाने के समाधान की तरह देखा जाना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि हम इसे जारी रखकर विश्व में अपनी स्थिति पर नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं। यही कारण है कि मैं राष्ट्रपति ट्रंप से ऐसी विस्तृत नीति के साथ अमेरिकी रोजगार के लिए लडऩे की अपील कर रही हूं, जो अमेरिका के आर्थिक हितों को सामने और केंद्र में रखे।

इस बीच वाल स्ट्रीट जर्नल ने एक रिपोर्ट में चेतावनी दी है कि अमेरिका का निर्णय जवाबी कदम के जैसे-को-तैसा प्रतिक्रिया की श्रृंखला की शुरुआत कर सकता है। चीन के एक अधिकारी ने भी कहा था कि यदि अमेरिका चीन पर शुल्क लगाता है तो चीन भी तत्काल अमेरिका पर शुल्क लगाएगा।

एक विलेन के सीक्वल को लेकर एकता कपूर कर सकती है जल्द ही ये घोषणा

Ekta Kapoor can announce the sequel of a villain soon

एंटरटेनमेंट डेस्क। टीवी जगत का जाना माना चेहरा और बॉलीवुड की फेमस फिल्मकार एकता कपूर एक बार फिर अपनी आगामी फिल्म को लेकर सुर्खियां बटौर रही हैं। आपको बता दें कि एकता कपूर बॉलीवुड की सुपरहिट फिल्म एक विलेन का सीक्वल बनाने की तैयारी कर रही हैं। 

गौरतलब है कि एकता कपूर ने साल 2014 में आई बॉलीवुड फिल्म एक विलेन बनाई थी। एकता की ये फिल्म बॉलीवुड के चर्चित स्टार श्रध्दा कपूर, सिध्दार्थ मल्होत्रा और अभिनेता रितेश देशमुख जैसे कलाकारों से सजी फिल्म थी। फिल्म को दर्शकों का खूब प्यार मिला था। फिल्म को मिली सफलता को देखते हुए एकता इसका सीक्वल बनाने जा रही हैं। 

खबरों की मानें तो एकता ने इस फिल्म के सीक्वेल पर काम करना शुरू कर दिया हैं। एक विलेन के सीक्वेल का नाम फिलहाल'एक विलेन 2' रखा गया है। बात करें फिल्म की कास्ट पर तो इसकी कास्ट पर फिलहाल काम किया जा रहा हैं। जानकारी के मुताबिक फिल्म एक विलेन में लीड एक्टर सिद्धार्थ मल्होत्रा थे और दर्शकों ने उन्हें काफी पसंद किया था। ऐसे में एकता इसके साथ कोई छेड़छाड़ नहीं करना चाहती और उन्होंने सीक्वेल के लिए भी सिद्धार्थ को ही चुना है।

इसके लिए एकता ने फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम करने के लिए कुछ लेखकों को हायर किया है। इसके अलावा एकता ने अपने लेवल पर इसकी तैयारी शुरू कर दी है। बताते चले कि फिल्म एक विलेन को मोहित सूरी ने निर्देशित किया था लेकिन वहीं विलेन-2 को लेकर एकता किसी नए निर्देशक का चेहरा तलाश रही हैं। फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम चल रहा है साथ ही एकता फिल्म की बाकी कास्ट को भी जल्द ही फाइनल करेंगी। 

Shocking! रणबीर कपूर ने जताई अपनी एक्स के ब्वॉयफ्रेंड संग काम करने की इच्छा

Shocking! Ranbir Kapoor expressed his wish to work with his boyfriend of X girlfriends

एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड के रॉकस्टार रणबीर कपूर इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल् ब्रह्रास्त्र की शूटिंग  में बिजी हैं। जाने माने निर्देशक अयान मुखर्जी के निर्देशन में बन रही फिल्म ब्रहास्त्र में रणबीर कपूर पहली बार एक्ट्रेस आलिया भट्ट के साथ काम करने जा रहे हैं। इस फिल्म की घोषणा के बाद से ही रणबीर और आलिया लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। बता दें कि इस फिल्म में आलिया भट्ट और ऱणबीर कपूर के अलावा अमिताभ बच्चन भी मुख्य किरदार में नजर आएंगे। 

वहीं रणबीर कपूर की फिल्म संजू रिलीज के लिए तैयार हैं। सिनेमाघरों में यह फिल्म इस महीने के अंत में रिलीज होने जा रही हैं। फिलहाल फिल्म के स्टार प्रमोशन में व्यस्त हैं। एक लंबे वक्त के बाद रणबीर कपूर एक दमदार किरदार में नजर आऩे वाले हैं। जिसे लेकर वे काफी उत्साहित हैं। आपको बता दें कि फिल्म प्रमोशन के दौरान रणबीर ने अपने दिल की बात साझा की हैं। जिसमें उन्होंने ख्वाहिश जताई है कि वह बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह के साथ काम करना चाहते हैं। बताते चले कि रणबीर कपूर रणवीर सिंह की फिल्म पद्दमावत में उनकी एक्टिंग से अभिभूत हैं।

यहीं नहीं रणबीर उनकी एनर्जी के भी कायल हैं। आपको बता दें कि रणबीर कपूर के साथ एक समय रिलेशनशिप में रहने वाली दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह एक दुसरे को डेट कर रहे हैं। इससे पहले रणबीर और दिपिका का रिश्ता भी किसी से छुपा नहीं हैं, हाल ही में रणबीर और दीपिका को मिजवान फैशन शो में एक साथ रैंप पर कैटवॉक करते देखा गया था। वैसे ये वाकई दिलचस्प होगा कि रणबीर कपूर अपनी एक्स के ब्वॉयफ्रैंड के साथ काम करने की ये इच्छा किस फिल्म में पूरी होती हैं। 

फुटबाल विश्वकप: मैसी ने दिलाया अर्जेंटीना को आईसलैंड के खिलाफ जीत का भरोसा

football World Cup: Messi assured Argentina of winning the win against Iceland

मॉस्को। लियोनल मैसी स्टारर अर्जेंटीना फुटबाल विश्वकप के अपने ग्रुप डी मुकाबले में शनिवार को उपविजेता की हैसियत से जीत की दावेदार के रूप में उतरेगी जबकि फीफा टूर्नामेंट के फाइनल में पहली बार क्वालीफाई करने वाली विपक्षी टीम आईसलैंड का लक्ष्य बड़े उलटफेर के साथ खुद को साबित करना रहेगा।

अर्जेंटीना ग्रुप डी की सबसे मजबूत टीमों में है और उसका शुक्रवार को मॉस्को के स्पार्टक स्टेडियम में छोटे से देश आईसलैंड के साथ मुकाबला होगा जो फीफा विश्वकप में अपना पदार्पण कर रहा है। ब्राजील में 4 साल पहले फाइनल में जर्मनी से हारकर खिताब गंवाने वाली अर्जेंटीना वर्ष 1978 और 1986 की चैंपियन है और इस वर्ष भी वह खिताब की बड़ी दावेदारों में है।

दुनिया के स्टार फुटबालर और 5 बार के विश्व के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मैसी की टीम अर्जेंटीना इस बार बड़े लक्ष्य के साथ उतर रही है और निश्चित ही उसे गैर अनुभवी आईसलैंड के खिलाफ अभी से जीत का दावेदार कहा जा रहा है। हालांकि यह भी तथ्य अहम है कि अर्जेंटीना ने रूस के लिये आखिरी क्वालिफायर मैच में जीत के बाद टिकट कटाया है और एक समय वह भी चिली और इटली जैसी बड़ी टीमों की तरह विश्वकप फाइनल से बाहर होने की कगार पर थी।

अर्जेंटीना ने अंतिम क्वालिफायर मैच में इक्वाडोर को हराकर विश्वकप 2018 के लिये क्वालीफाई किया है। टीम ने 18 मैचों में 19 गोल किए जो दक्षिण अमेरिकी ग्रुप से क्वालीफाई करने वाली किसी भी टीम का सबसे कमजोर प्रदर्शन रहा है। गत विश्वकप की उपविजेता टीम मैसी पर सबसे अधिक निर्भर करती है लेकिन ओवरऑल टीम का प्रदर्शन खास नहीं रहा है जिसने मार्च में क्वालीफाई करने से चूकी इटली के खिलाफ मुश्किल जीत दर्ज की और 4 दिन बार स्पेन से 1-6 से मैच हार गई।

अफगानिस्तान के क्रिकेटरों ने कुछ इस तरह से मनाई ईद की खुशिया!

Eid-ul-Fitr celebrated by Afghan cricketers

खेल डेस्क। अभी अफगानिस्तान और भारत के बीच जो ऐतिहासिक टेस्ट चल रहा है उसमें शुक्रवार के दिन धार्मिक सहिष्णुता की एक बड़ी मिसाल दिखी। अफगानिस्तान भी एक मुस्लिम राष्ट्र है कल यानी शनिवार को ईद का पर्व है। इस मौके पर भारत और अफगानिस्तान ने एक साथ खुशिया भी मनाई। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार अफगानिस्तान की टीम ने शुक्रवार को चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारत के खिलाफ ऐतिहासिक एकमात्र टेस्ट के दूसरे दिन के खेल के शुरू होने से पहले ईद - उल-फितर मनाई।

राशिद खान , कप्तान असगर स्टैनिकजई और मुजीबुर रहमान सहित खिलाडिय़ों ने सुबह स्थानीय मस्जिद का दौरा किया और फिर अफगान की त्योहार पर पहनी जाने वाली पारंपरिक पोशाक पहनकर स्टेडियम में पहुंचे। खिलाडिय़ों ने एक दूसरे को गले लगाकर ईद की बधाई दी, फिर वे दिन के खेल के लिए सफेद पोशाक पहनकर मैदान में उतरे। ईद के इस पावन मौके पर अफगानिस्तान टीम को अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने भी मुबारक बात दी है। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा,‘ ईद मुबारक।

एसीबी ईद के मौके पर प्रमुख एच ई अशरफ गनी, राष्ट्रीय खिलाडिय़ों, क्रिकेट प्रशंसकों और अफगानी लोगों तथा पूरी दुनिया के मुसलमानों को ईद मुबारक करते हैं। वहीं इस सुनहरे मौके पर भारतीय खिलाडिय़ों की और से भी उन्हे ईद की शुभकामनाएं दी गई। दोनों देशों के खिलाडिय़ों ने इस मौके पर एक-दूसरे को बंधाई दी और देश में अमन चैन की दुआं भी मांगी।

इस दौरान दोनों टीमों के खिलाडिय़ों में उत्साह दिखा। उल्लेखनीय है कि भारत और अफगानिस्तान के बीच खेले जा रहे इस मैच में भारत ने पहले खेलते हुए 474 रन बनाएं थे। जवाब में उतरी अफगानिस्तान की टीम मात्र 109 रन बनाकर ही आउट हो गई भी। इसके बाद भारत ने उसे फॉलोऑन खेलने के लिए आमंत्रित किया है। 

फैब इंडिया के खिलाफ खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग बॉम्बे हाईकोर्ट पहुंचा

Khadi and Village Industries Commission to reach Bombay High Court against Fab India

मुम्बई। बॉम्बे उच्च न्यायालय में कपड़े बेचने वाली फैब इंडिया पर खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग ने 525 करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचाने की गुहार लगाई है। मिली जानकारी के अनुसार, खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग ने अरोप लगाया कि फैब इंडिया ने अपनी फैक्ट्री में बने सूती कपड़ों को खादी के नाम पर बाजार में बेच रही है।

इससे हमें 525 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। खादी आयोग की ओर से केस लडऩे वाली लॉ फर्म कोचर एंड कंपनी ने फैब इंडिया से कहा कि वह खादी ट्रेडमार्क के माध्यम से कपड़े बेचने पर नुकसान की भरपाई करे।  फैब इंडिया के प्रवक्ता ने बताया कि इस सम्बंध में अभी तक हमें कोई जानकारी नहीं मिली है। इस बारे में उससे पहले कोई भी टिप्पणी करना सही नहीं होगा।

 पूरे देश में खादी को बढ़ावा और प्रोत्साहन का काम देखने वाली संस्था खादी एवं ग्रामोद्योग ने बताया है कि उसने फैब इंडिया को यह अधिकार नहीं दिए हैं कि वह खादी ब्रांड के नाम पर अपने कपड़े बेचे। फैब इंडिया से इस मामले में चर्चा चल रही थी, लेकिन फैब इंडिया की ओर से तय प्रक्रिया का पालन नहीं किए जाने के चलते वह रद्द कर दी गई थी।

वहीं दूसरी ओर, खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग ने रैमंड और अरविंद मिल्स को खादी ट्रेडमार्क का उपयोग करने का अधिकार दे दिया है। आयोग के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि हम नियमों का उल्ल्ंघन करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे। साथ ही कहा कि ग्रामीण कारीगरों के हितों का उल्लंघन करते हुए यदि कोई ट्रेडमार्क जैसे नियमों की अवहेलना करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उल्लेख है कि इससे पहले फैब इंडिया का कहना था कि वह 2015 से ही खादी एवं ग्रामोद्योग के संपर्क में है और मामले का निस्तारण करने का प्रयास किया जा रहा है। 

सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन मामूली बढ़त बनाकर बंद हुए Sensex-Nifty

Sensex-Nifty closed marginally on the last trading day of the week

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में आज कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये हरे निशान पर ही बंद हुआ। बढ़त के माहौल में कारोबार की समाप्ति पर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 22.32 अंक यानि 0.063 प्रतिशत की बढ़त के साथ 35,622.14 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 9.65 अंक यानि 0.089 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,817.70 के स्तर पर बंद हुआ। गौरतलब है कि कल शेयर बाजार में काराबोर की शुरुआत बढ़त के साथ हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये हरे निशान पर बंद हुआ।

काराबोर की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स सुबह 204.13 अंक यानि 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,535.03 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 139.34 अंक यानि 0.39 प्रतिशत की गिरावट के साथ 35,599.82 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी भी काराबोर की शुरुआत में 64.80 अंक यानि 0.60 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,791.90 के स्तर पर खुला और काराबोर की समाप्ति पर ये 48.65 अंक यानि 0.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,808.05 के स्तर पर बंद हुआ। 

आपको बता दें कि सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से छह कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बीते सप्ताह 60,207.86 करोड़ रुपए बढ़ गया। इस दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण सर्वाधिक बढ़ा। समीक्षावधि में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 34,378.16 करोड़ रुपए बढ़कर 6,23,070.31 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। 



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.