32 करोड़ आधार नम्बर मतदाता पहचानपत्र से जुड़े : सीईसी

Samachar Jagat | Saturday, 10 Mar 2018 05:56:23 PM
32 crore base numbers linked to voter identity card: CEC

बेंगलुरू। मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने शनिवार को कहा कि 32 करोड़ आधार संख्याओं को मतदाता पहचानपत्रों से जोड़ दिया गया है। रावत ने एक एनजीओ‘ एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ ( एडीआर) के 14 वें राष्ट्रीय सम्मेलन के इतर मीडिया से कहा कि अभी तक 32 करोड़ आधार नम्बर को मतदाता पहचान पत्रों से जोड़ दिया गया है।

मैं प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहताः गडकरी

उच्चतम न्यायालय से मंजूरी मिलने के बाद और 54.5 करोड़ आधार नम्बर को मतदाता पहचानपत्र से जोड़ दिया जाएगा। यह पूछे जाने पर कि और 54.5 करोड़ आधार नम्बर को जोडऩे में कितना समय लगेगा, रावत ने कहा कि हमने 32 करोड़ आधार नम्बर को केवल तीन महीने में जोडऩे का काम किया।

कर्नाटक स्थित मैथ्यू थॉमस ने आधार कानून की संवैधानिक वैधता को चुनौती देते हुए गत नवम्बर में उच्चतम न्यायालय में अर्जी दायर की थी और दावा किया था कि यह निजता के अधिकार का उल्लंघन है और बायोमेट्रिक प्रणाली सही तरीके से काम नहीं कर रही है। ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोपों को लेकर एक सवाल पर रावत ने कहा कि आयोग विश्वसनीय शिकायतों पर गंभीरता से विचार करेगा और उसका समाधान करेगा।

राजपा के किरोड़ी हुए भाजपा के

मतों की गिनती के लिए टोटलाइजर मशीनों के यूज पर रावत ने कहा कि हम यह नहीं कर सकते क्योंकि जब तक नियमों में संशोधन नहीं होता ऐसा नहीं हो सकता। उच्चतम न्यायालय पहले ही मामले की सुनवाई कर रहा है। रावत ने उनके हवाले से आई इन खबरों को खारिज किया कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव की घोषणा 15 अप्रैल के आसपास की जाएगी। रावत ने कहा कि वह उचित समय पर किया जाएगा।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.