अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस : राष्ट्रपति ने नर्सो को सच्चा राष्ट्रनिर्माता बताया

Samachar Jagat | Saturday, 12 May 2018 04:27:25 PM
International nurse day today

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस पर देश के लिए नर्सों के योगदान की सराहना की और नर्सिंग क्षेत्र को मजबूत बनाने की जरूरत बताई। राष्ट्रपति ने आज राष्ट्रपति भवन में एक समारोह में उल्लेखनीय सेवा के लिए 35 नर्सों को प्रतिष्ठित फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्कार प्रदान किया।

सलमान के घर से पार्टी कर लौट रही जैकलीन की कार का हुआ एक्सीडेंट

कोविंद ने कहा कि भारतीय नर्सों ने दुनियाभर में अपने लिए सम्मान अर्जित किया है। कई देशों की स्वास्थ्य-सेवाओं मेेंं, खासकर खाड़ी के देशों में, भारतीय नर्सें बड़ी संख्या में सेवारत हैं। उनकी कुशल सेवाओं और अनुशासित कार्य-शैली से उन्हें लोगों का स्नेह और सराहना प्राप्त हुई है।

उन्होंने कहा कि आज जिन नर्सिंग कर्मियों को पुरस्कार प्राप्त हुए हैं, वे भारत की विविधता में एकता को दर्शाते हैं। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह से लेकर दमन और दीव तक तथा हिमाचल प्रदेश से लेकर केरल तक नर्सिंग कर्मियों ने ये पुरस्कार प्राप्त किए हैं। मैं आप सभी को बधाई देता हूं।

राष्ट्रपति ने कहा कि देश को स्वस्थ रखने में नर्सिंग सेवा प्रदान करने वाले आप सभी लोगों की महत्वपूर्ण भूमिका है। आपने निष्ठा और समर्पण के साथ नर्सिंग के माध्यम से देश की सेवा की है। यह देश आप सभी नर्सिंग कर्मियों के प्रति आभारी है। उन्होंने कहा कि भारत में अभी प्रति 1000 लोगों पर 1.7 नर्स हैं। 

पंजाबी फिल्म में काम करने को लेकर उत्साहित है पंकज त्रिपाठी

जबकि विश्व का औसत 2 .5 है। कोविंद ने कहा कि गत कुछ सालों में पंजीकृत नर्सो एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या 27 लाख पार कर गई है। लेकिन यह संख्या पर्याप्त नहीं है। इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा, राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे आदि मौजूद थे। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.