न्यायपालिका लोकतंत्र का अत्यन्त सशक्त स्तम्भ है: योगी

Samachar Jagat | Sunday, 11 Mar 2018 07:25:29 AM
Judiciary is the most powerful pillar of democracy: yogi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि न्यायपालिका लोकतंत्र का अत्यन्त सशक्त स्तम्भ है। प्रजातंत्र की सफलता स्वतंत्र एवं दृढ़ न्यायपालिका पर निर्भर है। रूल ऑफ लॉ सभ्य समाज की आत्मा है।

कानून से ही विकास और सुशासन के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। राज्य सरकार न्याय व्यवस्था को सशक्त बनाने के लिए कृतसंकल्प है। आमजन को त्वरित एवं निष्पक्ष न्याय सुलभ कराने के लिए राज्य सरकार न्यायपालिका को हर सम्भव सहयोग उपलब्ध करायेगी। 

मुख्यमंत्री आज यहां आयोजित उत्तर प्रदेश न्यायिक सेवा संघ के 41वें अधिवेशन के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान में निहित समतापूर्ण विधि के शासन की स्थापना में सभी न्यायमूर्तिगण एवं न्यायिक अधिकारीगण महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

इस मौके पर योगी ने उत्तर प्रदेश न्यायिक अधिकारी कल्याण कोष में 10 करोड़ रुपए दिए जाने, न्यायिक अधिकारियों को सेवाकाल के दौरान 50 हजार रुपए का आवासीय फर्नीचर भत्ता दिए जाने तथा न्यायिक सेवा में आने के उपरान्त अधिकारी द्वारा एलएलएम की उपाधि हासिल करने पर तीन अग्रिम वेतन वृद्धि दिए जाने की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री ने न्यायिक अधिकारियों से न्यायालयों में लम्बित वादों की भारी संख्या को कम करने के लिए इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की न्यायिक कार्य में आधे घण्टे की वृद्धि का समर्थन करते हुए कहा कि इसके लिए न्यायिक अधिकारियों को अपनी ओर से सार्थक पहल करनी चाहिए। 

प्रदेश सरकार द्वारा महापुरूषों की जयन्ती आदि पर होने वाली 15 छुट्टियों को समाप्त करने से प्रदेश की जीडीपी में हुई 50 हजार करोड़ रुपए की वृद्धि की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि न्यायिक अधिकारियों द्वारा न्यायिक कार्य की अवधि में वृद्धि का प्रभाव बहुत उपयोगी हो सकता है। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.