16 अप्रैल: बस एक क्लिक में पढ़िए दिनभर की 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Monday, 16 Apr 2018 04:21:02 PM
latest top ten news today

एम चिन्नास्वामी स्टेडियम पर सैमसन ने की छक्कों की बरसात, तोड़ डाला यह रिकॉर्ड

Samson picks up sixes at M Chinnaswamy stadium

खेल डेस्क। संजू सैमसन (45 गेंदों में 92 रन) की तूफानी पारी की मदद से राजस्थान रॉयल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें संस्करण के अपने तीसरे मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को 19 रन से शिकस्त दी। 

बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में संजू सैमसन ने छक्कों की बरसात करते हुए कई दिग्गज खिलाडिय़ों को पीछे छोड़ दिया है। मैच में अपनी अर्धशतकीय पारी के दौरान उन्होंने दस छक्के लगाए।

इसके साथ ही सैमसन ने राजस्थान रॉयल्स की ओर से एक पारी में सर्वाधिक छक्के लगाने के युसूफ पठान के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। पठान दो बार एक पारी में आठ-आठ छक्के लगा चुके हैं। वहीं सैमसन ने इस मामले में युवराज सिंह को भी पीछे छोड़ दिया है। जिन्होंने एक पारी में नौ छक्के लगाए थे।  

बाएं हाथ के बल्लेबाज युवराज ने दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ 2008 में नौ छक्के लगाए थे। सैमसन ने एक पारी में छक्कों के मामले में एडम गिलक्रिस्ट के रिकॉर्ड की बराबरी की। गिलक्रिस्ट ने आईपीएल के पहले संस्करण में डेक्कन चार्जर्स की ओर से खेलते हुए दस छक्के लगाए थे।

आईपीएल में एक पारी में सर्वाधिक छक्के लगाने का कीर्तिमान क्रिस गेल के नाम है। गेल ने एक पारी में पुणे वरीयर्स के खिलाफ 17 छक्के जड़े थे। मैच में राजस्थान रॉयल्स ने पहले खेलते हुए 217 रन बनाए थे। इसके जवाब में बेंगलूरु केवल 198 रन ही बना सकी।

16 अप्रैल इसलिए हैं खास: आज के ही दिन देश को मिली थी पहली ट्रेन

April 16 day special news

नई दिल्ली। आज भले ही सुपरफास्ट, बुलेट ट्रेन का जमाना हो, लेकिन इंडियन रेलवे के इतिहास में 16 अप्रैल की इस तारीख की खास अहमियत है और हमेशा रहेगी। यही वे दिन है, जब देश में पहली रेल चली थी।

आज वर्ष का 106 वां दिन 16 अप्रैल एक और कारण से भी सदा याद किया जाएगा। दूसरे विश्व युद्ध की त्रासदी के बीच दुनिया को हंसाने वाले चार्ली चैपलिन का जन्म आज ही के दिन हुआ था। जानिए देश-दुनिया के इतिहास में इस दिन की कुछ खास घटनाएं इस प्रकार हैं...

1853: इंडिया में पहली रेल बॉम्बे (अब मुंबई) से ठाणे के बीच चली
16 अप्रैल 1853 को इंडिया में सर्व प्रथम मुंबई से ठाणे के बीच रेलगाड़ी चली। इस रेलगाड़ी ने 35 किमी का सफर तय किया। भाप के इंजन के साथ 14 डिब्बों की रेलगाड़ी मुंबई से ठाणे के बीच रवाना हुई थी। इंडियन रेलवे का नेटवर्क 64 हजार 15 किमी से ज्यादा लंबा है। कोई 15 हजार रेलगाडिय़ां इस नेटवर्क पर दौड़ती हैं। इस नेटवर्क पर 6 हजार से अधिक स्टेशन हैं। करीब 2 करोड़ लोग रोज रेलगाडिय़ों के माध्यम से इधर से उधर आते-जाते हैं।

इंडियन रेलवे का नेटवर्क दुनिया में अमेरिका, रूस और चीन के बाद चौथा सबसे बड़ा नेटवर्क है। हां, यह बात जरूर है कि तकनीक के मामले में ये तीनों देश भारत से कुछ या बहुत आगे हैं, किंतु इंडियन रेलवे भी इनसे एकदम उन्नीस भी नहीं है, बीस ही है। इंडिया में सर्व प्रथम रेल 1853 में दौड़ी थी, जबकि चीन में इसके 23 साल बाद यानी 1876 में। जब भारत आजाद हुआ तो इंडिया में रेल नेटवर्क की कुल लंबाई 53,596 किमी थी, जबकि चीन का रेल नेटवर्क सिर्फ 27,000 किमी ही था।

चार्ली चैपलिन का जन्म
आज ही के दिन सर चाल्र्स स्पेन्सर चैप्लिन का जन्म हुआ था। चैप्लिन (16 अप्रैल 1889 -25 दिसम्बर 1977) एक अंग्रेजी हास्य अभिनेता और मूवी निर्देशक थे। चैप्लिन, सबसे प्रसिद्ध कलाकारों में से एक होने के अलावा अमेरिकी सिनेमा के क्लासिकल हॉलीवुड युग के प्रारंभिक से मध्य तक एक महत्वपूर्ण मूवी निर्माता, संगीतकार और संगीतज्ञ थे।

चैप्लिन, मूक फिल्म युग के सबसे रचनात्मक और प्रभावशाली व्यक्तित्वों मे से एक थे जिन्होंने अपनी फिल्मों में अभिनय, निर्देशन, पटकथा, निर्माण और अंतत: संगीत दिया। मनोरंजन के कार्य में उनके जीवन के 75 साल बीते, विक्टोरियन मंच और यूनाइटेड किंगडम के संगीत कक्ष में एक शिशु कलाकार से लेकर 88 वर्ष की आयु में लगभग उनकी मृत्यु तक।

उनकी उच्च-स्तरीय सार्वजनिक और निजी जिंदगी में अतिप्रशंसा और विवाद दोनों सम्मिलित हैं। 1919 में मेरी पिकफोर्ड, डगलस फेयरबैंक्स और डी.डब्ल्यू.ग्रिफि़थ के साथ चैप्लिन ने यूनाइटेङ आर्टिस्टस की सह-स्थापना की।

1919 अमृतसर में हुए जलियांवाला बाग हत्याकांड में मरने वालों को श्रद्धांजलि देने के लिए महात्मा गांधी ने प्रार्थना सभा और उपवास की घोषणा की।
1945 एक सोवियत पनडुब्बी के कारण जर्मन रिफ्यूजी शिप डूब गया, जिसकी वजह से 7000 लोग मारे गए।
1964 1964: ब्रिटेन के चर्चित अपराधों में शामिल ‘द ग्रेट ट्रेन रॉबरी’ के लिए 12 लोगों को 307 साल की सजा सुनाई गई।
2002 दक्षिण कोरिया में एक विमान दुर्घटना में 120 लोग मारे गए।
2004 भारत ने रावलपिंडी टेस्ट जीतकर सीरीज में पाकिस्तान को 2-1 में मात दी। 

किशोरी से रेप के मामलों में मौत की सजा का प्रावधान करने के लिए विधेयक लाया जाए: फारूक अब्दुल्ला

Bill to bring death penalty for teenager from rape cases: Farooq Abdullah

श्रीनगर। विपक्षी दल नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने रविवार को मांग की है कि नाबालिगों से रेप करने वालों के लिए मौत की सजा का प्रावधान करने की खातिर एक विधेयक लाया जाए और इसके लिए जम्मू -कश्मीर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाए।

अब्दुल्ला ने ये टिप्पणी जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 वर्षीय एक बच्ची से रेप और उसकी हत्या की बर्बर घटना की देशभर में हो रही निंदा की पृष्ठभूमि में की। उन्होंने मीडिया से कहा कि इस तरह के मामलों में मौत की सजा का प्रावधान किया जाना चाहिए। अब्दुल्ला ने कहा कि वे ( कठुआ मामले में पीडि़त बच्ची ) मेरी बेटी की तरह है।

ऊपर वाले का शुक्रिया कि देश की आंखे खुल गई और इसे बहुत गंभीरता से लिया गया। मुझे उम्मीद है कि न्याय होगा और हम विधानसभा सत्र में एक विधेयक लाएंगे जिसमें इस तरह की घटनाओं में मौत की सजा का प्रावधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस तरह के अपराधों पर रोक लगाने के लिए विधेयक पारित किया जाए और इसके लिए पीडीपी -बीजेपी की सरकार को विधानसभा का विशेष सत्र बुलाना चाहिए।

अब्दुल्ला ने कहा कि सरकार केवल इस काम के लिए विशेष सत्र बुलाए। विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया जाएगा और विधेयक पारित किया जाएगा तो यह भविष्य के लिए बहुत अच्छा होगा, ऐसे अपराध नहीं होंगे।

जम्मू- कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी कहा कि उनकी सरकार नया कानून लाकर नाबालिगों से दुष्कर्म करने वालों के लिए मौत की सजा को अनिवार्य बनाएगी। महबूबा ने 12 अप्रैल को ट्वीट किया था , हम किसी और बच्चे को इस तकलीफ से नहीं गुजरने देंगे। हम नया कानून लाएंगे जिसमें नाबालिगों से दुष्कर्म करने वालों के लिए मौत की सजा को अनिवार्य बनाया जाएगा। 

साइबर हमले के पीछे रूस का हाथ: जर्मनी

Russia's hand behind cyber attack: Germany

बर्लिन। जर्मनी की सरकार का मानना है कि उसके विदेश मंत्रालय पर साइबर हमला करने के पीछे रूस का हाथ है। जर्मनी के विदेश मंत्री हेइको मास ने जेडीएफ ब्रॉडकास्ट को यह जानकारी दी। श्री मास रूस द्वारा सिलसिलेवार ढ़ंग से जर्मनी के खिलाफ उठाये गये कदमों को गिनाया।

इसमें पूर्वी यूक्रेन में युद्ध विराम लागू करने हुई ढील, ब्रिटेन में जहरीली गैस का हमला, रूस द्वारा सीरिया सरकार का समर्थन करना, रूस का पश्चिमी देशों के चुनावों को प्रभावित करने का प्रयास और साइबर हमला शामिल है।

श्री मास ने कहा, जर्मनी के विदेश मंत्रालय पर हमला हुआ और हमारा मानना है कि इसके पीछे रूस का हाथ है। उन्होंने कहा, हम इसे अनदेखा नहीं कर सकते। इसलिए यह बता देना है कि हम रूस के इन कदमों को किसी भी तरह से सकारात्मक नहीं समझते।

मक्का मस्जिद विस्फोटः जाने कौन है असीमानंद जो फैसला आने में लग गए 11 साल

mecca-masjid-blast-case-accused-Swami Aseemanand acquitted by court

नेशनल डेस्क। हैदराबाद के मक्का मस्जिद में 11 वर्ष पहले हुए बम बलास्ट के दौरान 9 लोगों की मौत हुई थी और इस दौरान कई लोग घायल भी हुए थे, आज इस मामले में एनआईए की विशेष कोर्ट ने 2007 के इस मामले में पांचों आरोपियों को बरी कर दिया है। इन पांचों आरोपियों में असीमानंद मुख्य आरोपी थे। हालांकि इन पांचों आरोपियों के बरी होने के बाद मृतकों के परिजन निराश जरूर हुए होंगे क्योंकि जीन लोगों ने अपने परिवार के लोग खो दिए उनकों अगर ऐसा फैसला सुनने को मिले तो कौन खुश होगा।  

कब हुआ था धमाकाः 

आपकों बतादें की 18 मई 2007 को नमाज के दौरान ऐतिहासिक मक्का मस्जिद में विस्फोट हुआ था और इस विस्फोट में नौ लोग मारे गए थे और 58 अन्य घायल हुए थे। स्थानीय पुलिस की शुरुआती जांच के बाद मामला सीबीआई को स्थानांतरित कर दिया गया था। 

सीबीआई के पास से मामला गया एनआईएः

इस मामले में सीबीआई ने एक आरोपपत्र दाखिल किया और इसके बाद 2011 में सीबीआई से यह मामला राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए को सौंपा गया। इस धमाके में स्वामी असीमानंद समेत कुल 10 लोगों को आरोपी बनाया गया था। इनमें से एक आरोपी की मौत हो चुकी है। बाद में इस मामले में पांच आरोपियों पर सुनवाई हुई थी।

कौन-कौन थे आरोपीः

आरोपियों में स्वामी असीमानंद, देवेंदर गुप्ता, लोकेश शर्मा (अजय तिवारी), लक्ष्मण दास महाराज, मोहनलाल रातेश्वर, राजेंदर चैधरी, भारत मोहनलाल रातेश्वर, रामचंद्र कलसांगरा (फरार), संदीप डांगे (फरार), सुनील जोशी (मृत) शामिल थे।

कितने लोगों के हुए बयान दर्जः

हैदराबाद के मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में अब तक कुल 226 चश्मदीदों के बयान दर्ज किए गए थे और अदालत में 411 दस्तावेज पेश किए गए, लेकिन उसके बाद भी सभी पांचों आरोपियों को बरी कर दिया गया है।

कौन है असीमानंदः

असीमानंद का पूरा नाम नभकुमार सरकार है और वे पश्चिमी बंगाल के हुगली के रहने वाले हैं। सूत्रों की माने तो 1995 में कट्टरपंथी नेता के तौर पर पहली बार असीमांनद सक्रिय हुए। इस दौरान उन्होंने हिंदू संगठनों के साथ मिलकर गुजरात में हिंदू धर्म जागरण और शुद्धिकरण अभियान चलाया। उन्होंने अपनी गतिविधियां संचालित करने के लिए शबरी माता का मंदिर बनाया। वर्ष 1990 से 2007 के बीच राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़ी संस्था वनवासी कल्याण आश्रम के प्रांत प्रचारक प्रमुख भी रहे है। असीमानंद को अजमेर बम ब्लास्ट समेत विभिन्न मामलों में 19 नवंबर 2010 को हरिद्वार में गिरफ्तार किया गया था।

जाने कब-कब क्या हुआ इस मामले मेंः

18 मई 2007 को नमाज के दौरान धमाका हुआ।

ब्लास्ट के समय 5000 से अधिक लोग मौजूद थे।

धमाके में 9 लोग मारे गए जबकि 58 घायल हुए।

धमाके के बाद मस्जिद में तीन बम और मिले।

एनआईए ने असीमानंद और लक्ष्मण दास महाराज जैसे कई लोगों को गिरफ्तार किया।

13 मार्च 2018 को डॉक्युमेंट जांच के दौरान असीमानंद की डिस्क्लोजर रिपोर्ट गायब हुई।

आज करीब 11 साल बाद ब्लास्ट केस में फैसला आया।

विराट की यह रिकॉर्ड पारी भी नहीं दिला सकी बेंगलूरु को जीत

Virat's record innings can not be given win to Bengaluru

बेंगलुरु। भले ही विराट कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें संस्करण में रविवार को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन विराट ने इस मैच में तूफानी पारी खेल अपने प्रशंसकों का दिल जीता है। 

इस मैच में विराट ने तूफानी अर्धशतकीय पारी खेली, हालांकि उनकी यह पारी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को जीत दिलवाने में नाकाफी थी। इस मैच में विराट ने अपने आईपीएल करियर की सबसे तेज अर्धशतकीय पारी खेली। 

विराट ने इस मैच में 30 गेंद पर 57 रन बनाए। इस पारी में उन्होंने सात चौके और दो छक्के लगाए। यह विराट का आईपीएल में 31वां और उनके टी-20 करियर का सबसे तेज अर्धशतक था।

गौरतलब है कि मैन ऑफ द मैच संजू सैमसन की नाबाद 92 रन की विस्फोटक पारी के दम पर राजस्थान रॉयल्स ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को 19 रन से पीटकर आईपीएल-11 में तीन मैचों में दूसरी जीत हासिल कर ली।

राजस्थान ने संजू के मात्र 45 गेंदों पर दो चौकों और 10 छक्कों से बनी तूफानी (नाबाद 92) पारी की बदौलत 20 ओवर में चार विकेट पर 217 रन बनाए। इसके जवाब में बेंगलूरु टीम छह विकेट पर 198 रन ही बना सकी। विराट कोहली की कप्तानी वाली बेंगलूरु की तीन मैचों में यह दूसरी हार है। 

113 अंक की बढ़त बनाकर बंद हुआ सेंसेक्स

Sensex closes by 113 points

मुंबई। शेयर बाजार में आज कारोबार की शुरुआत गिरावट के साथ लाल निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ है। बढ़त के माहौल में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 112.78 अंक यानि 0.33 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 34,305.43 के स्तर पर बंद हुआ।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 47.75 अंक यानि 0.46 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,528.35 के स्तर पर बंद हुआ। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत बढ़त के साथ हरे निशान पर हुई और कारोबार की समाप्ति पर भी ये बढ़त के साथ हरे निशान पर बंद हुआ।

बढ़त के माहौल में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का तीस शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 91.52 अंक यानि 0.27 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 34,192.65 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का पचास शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 21.95 अंक यानि 0.21 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 10,480.60 के स्तर पर बंद हुआ।

ओला एक साल में जोड़ेगी 10 हजार इलेक्ट्रिक वाहन

Ola will add 10 thousand electric vehicles in a year

नई दिल्ली। कैब सेवाएं देने वाली कंपनी ओला ने आज कहा कि उसकी योजना 'मिशन इलेक्ट्रिक’ कार्यक्रम के तहत अगले 12 महीनों में 10 हजार इलेक्ट्रिक वाहनों को अपने प्लेटफार्म से जोड़ने की है। इनमें से अधिकांश ई-रिक्शा होंगे। कंपनी का लक्ष्य देश में इलेक्ट्रिक वाहन पारिस्थितिकी को बढ़ावा देने के लिए 2021 तक 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहन जोड़ने की है।

कंपनी के सह-संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी भाविश अग्रवाल ने कहा, '' तिपहिया वाहन परिवहन का व्यापक माध्यम है और प्रतिदिन लाखों लोगों के जीवनयापन का स्रोत है। यह शहरों में प्रदूषण की कटौती करते हुए सभी संबंधित पक्षों के लिए बेहतर परिणाम देने का त्वरित विकल्प भी उपलब्ध कराता है।’’

कंपनी ने पिछले साल मई में नागपुर में पहली इलेक्ट्रिक वाहन परियोजना शुरू की थी। इसमें इलेक्ट्रिक कैब, ई - रिक्शा, इलेक्ट्रिक बस, छतों पर सौर ऊर्ज़ा पैनल, चार्जिंग स्टेशन, बैटरी की अदला-बदली प्रयोग आदि शामिल था। अग्रवाल ने कहा, '' इलेक्ट्रिक वाहनों के जरिए 40 लाख किलोमीटर से अधिक का सफल तय कर लेने के बाद हमने काफी कुछ सीखा है और हम देश में परिवहन में इलेक्ट्रिक वाहनों का प्रयोग बढ़ाकर अपनी प्रतिबद्धता बढ़ा रहे हैं। ’’

उन्होंने कहा कि कंपनी आसानी से उपलब्ध, किफायती और टिकाऊ परिवहन समाधान मुहैया कराने के लिए राज्य सरकारों एवं अन्य भागीदारों के साथ मिलकर काम करने के मौके तलाश रही है। कंपनी ने कहा कि वह इलेक्ट्रिक वाहनों की सेवा देश के तीन अन्य शहरों में भी शुरू करने वाली है। हालांकि, कंपनी ने इन शहरों के नामों का खुलासा नहीं किया। ओला ने कहा कि वह इलेक्ट्रिक तिपहिया वाहनों को सड़कों पर उतारने के मद्देनजर एक उपयुक्त नीति को लेकर राज्य सरकारों से बात कर रही है। 

धर्मेन्द्र को 'राज कपूर लाइफ टाइम अचीवमेंट' पुरस्कार देने की घोषणा

Dharmendra gets Raj Kapoor Life Time Achievement Award

मुंबई। बीते दिनों के मशहूर अभिनेता धर्मेन्द्र और फिल्मकार राजकुमार हिरानी को सिनेमा जगत में उनके बेहतरीन योगदान के लिए क्रमश: प्रतिष्ठित  'राज कपूर लाइफ टाइम अचीवमेंट' और ' राज कपूर स्पेशल कॉन्ट्रिब्यूशन' पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

महाराष्ट्र के संस्कृति मंत्री विनोद तावडे ने आज यह घोषणा की। मशहूर मराठी कलाकार विजय चव्हाण को ' वी शांताराम लाइफ टाइम अचीवमेंट' और निर्देशक एवं अदाकारा मृणाल कुलकर्णी को ' वी शांताराम स्पेशल कॉन्ट्रिब्यूशन' पुरस्कार से नवाजा जाएगा।

दोनों लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार विजेताओं को 5,00,000 रुपए नगद और कॉन्ट्रिब्यूशन पुरस्कार विजेताओं को 3,00,000 रुपए नगद दिए जाएंगे। राज्य सरकार द्वारा दिए जाने वाले ये पुरस्कार 55 वें महाराष्ट्र स्टेट मराठी फिल्म उत्सव के दौरान दिए जाएंगे।

कबीर कौशिक की फिल्म में अमिताभ बच्चन के साथ नजर आएगा ये बॉलीवुड एक्टर

This Bollywood actor will be seen with Amitabh Bachchan in Kabeer Kaushik's movie

मुंबई। बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और माचो मैन संजय दत्त की सुपरहिट जोड़ी सिल्वर स्क्रीन पर फिर काम करती नजर आयेगी। अमिताभ बच्चन ने संजय दत्त के साथ डिपार्टमेंट, अलादीन, शूटआउट एट लोखंडवाला, एकलव्य, दीवार और कांटे समेत कई फिल्मों में काम किया है।

काफी समय से दोनों फिल्म में साथ नहीं दिखे। अब दोनों को एक ही फिल्म में कास्ट करने की योजना है। चर्चा है कि अरशद वारसी के साथ सहर और प्रियंका चोपड़ा के साथ चमकू जैसी फिल्म का निर्देशन करने वाले कबीर कौशिक निर्देशन के मैदान में वापसी करने जा रहे हैं।

उन्होंने आखिरी बार 2012 में सोनू सूद और नसीरुद्दीन शाह के साथ मैक्सिमम नाम की फिल्म बनाई थी। बताया जा रहा है कि उनकी अगली फिल्म का नाम शिकागो जंक्शन होगा। यह उनकी चार साल पहले प्लान की गई फिल्म है जो किसी वजह से तब शुरू नहीं हो पाई थी।

फिल्म में संजय दत्त को लीड रोल के लिए कास्ट किया गया है और अमिताभ बच्चन से भी एक अहम रोल के लिए बात की गई है। यह एक थ्रिलर फिल्म होगी। चार साल पहले कौशिक ने अरशद वारसी, नसीरुद्दीन शाह और पंकज कपूर को लेकर यह फिल्म प्लान की गई थी। अरशद के जगह संजय दत्त को शामिल किया गया है जबकि नसीर और पंकज अब भी फिल्म में बने हुए हैं।



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.