सैफई महोत्सव एक परिवार का था, गोरखपुर महोत्सव जनता का: योगी

Samachar Jagat | Sunday, 14 Jan 2018 10:01:24 AM
Saifai Festival was of a family, Gorakhpur Festival public: Yogi

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सैफई महोत्सव को एक परिवार का बताते हुए कहा कि जनता की भलाई के लिए आयोजित गोरखपुर महोत्सव को बदनाम करने की असफल कोशिश की गई। योगी ने तीन दिवसीय गोरखपुर महोत्सव का समापन करते हुए कहा कि वह दो दिनों से चुप थे। महोत्सव को बदनाम करने की साजिश की गई लेकिन लोगों को समझना चाहिए कि सैफई महोत्सव एक परिवार का है जबकि गोरखपुर महोत्सव जनता का और जनता की भलाई के लिए आयोजित किया गया।

सुधार और विकास कार्य से बदलेगा समाज : नीतीश

योगी ने कहा कि सैफई महोत्सव में सरकारी खजाना बहाया गया और यहां ऐसा नहीं हुआ। सरकारी खजाने को पानी की तरह बहाया गया लेकिन गोरखपुर में ऐसा कुछ नहीं किया गया। कम पैसे में एक अच्छा आयोजन हुआ। संस्कृति का एहसास किया गया। लोगों ने शिक्षात्मक मनोरंजन हासिल किया। हुल्लड़ की कोई गुंजाइश नहीं थी। 

फुल बेंच मिलकर सुलझाए जज विवाद : एससीबीए

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी(सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गोरखपुर महोत्सव की तुलना अपने पैतृक गांवव इटावा के सैफई में आयोजित होने वाले महोत्सव से कई बार की। उन्होंने सैफई महोत्सव को गोरखपुर महोत्सव से बेहतर भी बताया था।-एजेंसी  

प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई का ‘कठपुतली’ की तरह इस्तेमाल :कांग्रेस



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.