पीएम मोदी की शिरडी यात्रा से पहले हिरासत में ली गईं कार्यकर्ता तृप्ति देसाई

Samachar Jagat | Friday, 19 Oct 2018 01:13:33 PM
Trupti Desai, who was taken into custody before PM Modi Shirdi visit

पुणे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के काफिले को शिरडी जाने से रोकने की धमकी देने वाली महिला अधिकार कार्यकर्ता तृप्ति देसाई को पुलिस ने शुक्रवार की सुबह हिरासत में लिया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। भूमाता रंगरागिनी ब्रिगेड की अध्यक्ष देसाई देश के मंदिरों में महिलाओं को प्रवेश दिलाने की लड़ाई लड़ रही हैं।

पीएम मोदी का शुक्रवार को शिरडी जाने का कार्यक्रम हैं जहां वह साईबाबा समाधि शताब्दी कार्यक्रम की समाप्ति पर साई मंदिर न्यास की ओर से आयोजित समारोह में हिस्सा लेंगे। समाधि शताब्दी समारोह एक साल से चल रहा था।

वे प्रधानमंत्री आवास योजना के कुछ लाभार्थियों को उनके मकानों की चाभियां भी सौपेंगे। कुछ दिन पहले ही देसाई ने प्रधानमंत्री से सबरीमला मुद्दे पर बातचीत करने के लिए शिरडी में मिलने का समय मांगा था। देसाई ने चेतावनी दी थी कि प्रधानमंत्री से मिलने नहीं देने पर उनके संगठन के कार्यकर्ता मोदी के काफिले का रास्ता रोकेंगे।

2 महिलाओं ने कड़े विरोध के बीच सबरीमाला पहाड़ी की चढ़ाई शुरू की

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पुणे से शिरडी रवाना होने से पहले आज देसाई को सहकारनगर पुलिस ने एहतियातन हिरासत में लिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की शिरडी यात्रा में बाधा पहुंचाने की धमकी देने के बाद पुलिस ने आज तड़के उन्हें हिरासत में लिया।

उन्हें फिलहाल सहकार नगर थाने में  हिरासत में रखा गया है। इसबीच, पीटीआई से फोन पर हुई बातचीत में देसाई ने कहा कि उन्होंने अहमदनगर जिले के पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर सबरीमला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के मुद्दे पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री से मिलने का समय मांगा था।

दुश्मन के शस्त्र शांत रहने पर हमारे शस्त्र भी रहेंगे शांत: राजनाथ

देसाई ने कहा कि चिट्ठी में हमने चेतावनी दी थी कि भेंट का समय नहीं मिलने पर हम प्रधानमंत्री का काफिला रोक देंगे। हमने उनसे बातचीत करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने शुक्रवार को उन्हें हिरासत में लेने में जो तत्परता दिखाई है वैसी तत्परता वह केरल में मंदिर में महिलाओं के प्रवेश का विरोध करने वालों के खिलाफ नहीं दिखा रही।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.