सावधान : ये है भारत का सबसे डरावना गांव, फिर भी आते है लाखों पर्यटक

Samachar Jagat | Thursday, 21 Feb 2019 11:27:57 AM
careful This is the most scary village of India, yet it has millions of tourists

इंटरनेट डेस्क: कई लोगों को घूमने फिरने का बेहद शौक होता है जिसके लिए वह हर समय नई जगहों की तलाश में रहते है ऐसे में भारत में ऐसी बहुत सी जगह है जहां की प्रकृति की ख्ूाबसूरती देख हर कोई उनके बीच बस जाना चाहता है तो वहीं कुछ गांव भी ऐसी है जो अपने किसी वजह से पूरे देश में मशूहर है इसलिए आज हम आपकों भारत के एक ऐसे डरावाने गांव के बारे में बताएंगे जहां जाना किसी खतरे से कम नहीं है ऐसे में आपने भारत में आएं दिन कई ऐसी बातें जरूर सुनी होगी जिसपर विश्वास करना बहुत कठिन होता हैं उसी तरह कुछ ऐसी जगहे भी होती है जिसके बारे में आपने बहुत कुछ सुना होगा, पर विश्वास कर पाना थोड़ा मुश्किल होता है तो कई ऐसी जगहों के बारे में भी सुना होगा जो भूतों का निवास होता है यह एक ऐसा गांव है जिसे देश का सबसे भयानक गांव माना जाता है आइए जानते है..,

Old Post Image

इस डरावने गांव का नाम है धनुषकोटि ये गांव वीरान है, लेकिन श्रीलंका से महज 18 मील की दूरी पर स्थित है जी हां तमिलनाडु के रामेश्वरम जिले में ये गांव है  स्थानीय लोगों के अनुसार इस गांव में अंधेरे होने के बाद जाना मना है,  वैसे आपकों बतादें की यह भारत और श्रीलंका के बीच एकमात्र स्थलीय सीमा है जो बालू के टीले पर सिर्फ  50 गज की लंबाई में दुनिया के सबसे छोटे जगहों में से एक मानी गई है
इस जगह की खास बात ये है कि यह जगह डरावनी होने के बावजूद पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करने में पीछे नहीं रही है, इसी वजह से यहां हर साल कई सैलानी आते हैं और घूमने का अनांद लेते है

Old Post Image

वैसे आपकों बतादें की  ये जगह भुतहा जगहों की सूची में भी शामिल है, इसलिए पर्यटक दिन के उजाले में ही यहां घूमने का प्लान बनाते है और जैसे ही शाम होने लगती है वह वहां से लौट आते है, क्योंकि पूरा रास्ता सुनसान. और डरावना होने के कारण पयर्टक जल्द से जल्द रामेश्वरम आ जाते है, बताया जाता है की ये गांव रहस्य से भरा हुआ है, वैसे अगर बात हिदूं धर्मग्रथों के अनुसार की जाए तो रावण के भाई विभीषण के अनुरोध पर श्रीराम ने अपने धनुष के एक सिरे से सेतु को तोड़ दिया और इस प्रकार इसका नाम धनुषकोटि पड़ा

Old Post Image

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.