अगर गगनयान मिशन रहा सफल तो अंतरिक्ष में मनुष्य को भेजने वाला चौथा देश बन जाएगा भारत

Samachar Jagat | Wednesday, 10 Oct 2018 12:07:06 PM
If the gaganaya mission is successful, then India will become the fourth country to send man in space

मॉस्को। प्रशिक्षण मिशन के लिए 2022 में एक भारतीय अंतरिक्ष यात्री सोयूज अंतरिक्ष यान से अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन ( आईएसएस ) जा सकता है। रूस की सरकारी मीडिया ने रूसी अंतरिक्ष उद्योग के सूत्र के हवाले से बुधवार को यह खबर दी।
रूस की सरकारी संवाद समिति स्पूतनिक ने सूत्र के हवाले से अपनी खबर में लिखा है । 

गर्भावस्था के आखिरी महीनों में दिन छोटे रहने पर महिलाओं को हो सकता है अवसाद

रूस ने भारतीय सहकर्मियों को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन की यात्रा करने की पेशकश की है । सोयूज 2022 में भारत के पहले मानव अंतरिक्ष मिशन से पहले या बाद में उड़ान भरेगा । इस संबंध में समझौते पर निकट भविष्य में हस्ताक्षर होने की संभावना है। अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पृथ्वी की निचली कक्षा में स्थित मानव निर्मित स्टेशन है जहां अंतरिक्ष यात्री रहते हैं ।

फलों एवं सब्जियों में पाया जाने वाला ये प्राकृतिक पदार्थ बुजुर्ग व्यक्तियों के लिए होता है फायदेमंद

गौरतलब है कि स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से अपने भाषण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2022 तक देश में विकसित गगनयान से मानव को अंतरिक्ष में भेजने संबंधी महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की थी । यदि भारत का गगनयान मिशन सफल रहता है तो वह अमेरिका, रूस और चीन के बाद अंतरिक्ष में मनुष्य को भेजने वाला चौथा देश बन जाएगा। - एजेंसी

व्यक्ति की रंग पहचानने संबंधि नेत्रदृष्टि को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है वियाग्रा का ओवरडोज

अगर आप भी करते हैं कांटेक्ट लेंस का इस्तेमाल तो संक्रमण से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

 


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.