बड़ा अजीब है ये गांव, यहां कई महीनों तक सोते रहते हैं लोग

Samachar Jagat | Sunday, 05 Aug 2018 11:26:32 AM
It's strange that this village, people sleep here for several months

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। दुनिया में अलग-अलग तरह के स्थान हैं जो अपनी अनोखी खासियत की वजह से प्रसिद्ध होते हैं। आपको ये जानकर आश्यर्च होगा कि एक जगह ऐसी है जहां पर लोग महीनों तक सोते रहते हैं। अपनी इसी अनोखी खासियत की वजह से ये छोटा सा गांव पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। आपको बता दें कि दुनिया के नौंवें सबसे बड़े देश कजाकिस्तान में एक छोटा-सा गांव है कचाली। इस गांव में 2010 में एक ऐसी घटना हुई जिसके बाद ये गांव पूरी दुनिया में मशहूर हो गया। आपको ये जानकर आश्यर्च होगा कि इस गांव के लोग अचानक काफी गहरी नींद में सोने लगे।

दिन में दो बार गायब होता है गुजरात का ये मंदिर , देशी और विदेशी पर्यटकों की रहती है भीड़

वे एक या दो दिन के लिए नहीं बल्कि कई दिनों और कई महीनों तक इसी गहरी नींद में सोए रहते हैं । जब लंबे अंतराल के लिए लोग यहां गहरी नींद में सो जाते है उस वक्त यहां चारों तरफ सन्नाटा छा जाता है। जब वैज्ञानिकों और डॉक्टरों ने इस रहस्य के बारे में जानने की कोशिश की तो उन्हें इसका कोई ठोस आधार नहीं मिला, उनका मानना है कि गांव की बनावट और मौसम के कारण यहां के लोग इतनी गहरी नींद में सोते हैं।

बहुत ही अनोखा है भगवान शिव का ये मंदिर , मात्र एक दिन में बनकर हो गया था तैयार

जब हवा में कार्बनमोनोऑक्साइड की मात्रा बहुत ज्यादा हो जाती है तो लोग गहरी नींद में चले जाते हैं, वहीं इसका यहां के जानवरों पर कोई असर नहीं पड़ता है, ये जानकर वैज्ञानिक भी हैरान हैं। अपनी इसी खासियत की वजह से ये गांव पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

भारत की इन खूबसूरत जगहों पर ले सकते हैं स्काई डाइविंग का बेहतरीन अनुभव

लोगों में बढ़ रहा है क्रूज ट्रेवलिंग का क्रेज , भारत में आकर विदेशी पर्यटक भी उठा रहे हैं लुत्फ

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.